If a daughter is lacking in money for education, then write to the Minister of Education-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 13, 2020 1:41 am
Location
Advertisement

अगर किसी बेटी को शिक्षा के लिए हो धन की कमी, तो लिखें, शिक्षा मंत्री को चिट्‌ठी

khaskhabar.com : शनिवार, 09 जून 2018 6:41 PM (IST)
अगर किसी बेटी को शिक्षा के लिए हो धन की कमी, तो लिखें, शिक्षा मंत्री को चिट्‌ठी
चंडीगढ़ । हरियाणा के सभी सरकारी स्कूलों में आगामी 15 अगस्त तक शिक्षकों की कमी नहीं रहेगी और धनाभाव के कारण राज्य की कोई भी बेटी शिक्षा से वंचित नहीं होगी। अगर किसी बेटी को शिक्षा प्राप्ति में धन की कमी आती है तो वह राज्य के शिक्षा मंत्री को चिट्‌ठी लिख सकती है। बेटियों की शिक्षा के लिए राज्य सरकार ने 10 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है।
हरियाणा के शिक्षा एवं पर्यटन मंत्री रामबिलास शर्मा ने यह जानकारी झज्जर जिला के गांव कुलाना में राजकीय महिला महाविद्यालय के भूमि पूजन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए की।
इतना ही नहीं कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की विशेष मांग पर शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने गांव पाटोदा में संस्कृति मॉडल स्कूल तथा राजकीय महिला महाविद्यालय, कुलाना में कला व वाणिज्य के साथ-साथ विज्ञान संकाय आरंभ करने की भी घोषणा की। शिक्षा मंत्री ने कहा कि राजकीय महिला महाविद्यालय, कुलाना के लिए कृषि मंत्री ने बड़ा संघर्ष किया है। इनके प्रयासों के चलते ही इस इलाके का यह सपना साकार हो पाया। उन्होंने बताया कि सोमवार 11 जून से कॉलेज के लिए दाखिले शुरू हो जाएंगे। कॉलेज में प्रवेश पाने वाली पहली दस छात्राओं को 500-500 रुपए की राशि प्रोत्साहन स्वरूप भी मिलेगी। उन्होंने गो संवर्धन व गो संरक्षण तथा किसानों की भलाई के लिए कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री के कार्यों की जमकर सराहना भी की।
भूमि पूजन समारोह की अध्यक्षता करते हुए कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने महिलाओं की बड़ी भागीदारी का अपने संबोधन के दौरान जिक्र किया। अपनी बेटियों को पढ़ाने का सपना आज साकार हो रहा है। उन्होंने कहा कि बेटियों को बारहवीं के बाद उच्च शिक्षा के लिए बाहर भेजने का माताओं के मन में जो संकोच होता था इस कॉलेज के खुलने से वह संकोच अब टूट जाएगा। उन्होंने कहा कि कॉलेज में पढऩे वाली छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि इस संस्थान को शिक्षा का ऐसा मंदिर बनाइए कि यहां पर दाखिले के लिए लाइन लगे।
हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के विशेष प्रयासों से गांव कुलाना में लड़कियों के लिए कॉलेज मंजूर हुआ है। करीब 12 एकड़ में बनने वाले इस कॉलेज के निर्माण पर करीब सवा बारह करोड़ रुपए की लागत आएगी। कॉलेज के लिए प्रस्तावित स्थल पर भूमि पूजन के लिए यज्ञ का भी आयोजन किया गया। शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ व उनकी धर्मपत्नी श्रीमती निरूपा धनखड़, दिव्यांगजन आयोग के आयुक्त दिनेश शास्त्री तथा भाजपा के उपाध्यक्ष अरविंद यादव सहित बड़ी संख्या में आस-पास के ग्रामीणों ने आहूति डाली।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement