Himalayas sweet water, reaching Makrana-Parbetsar, will cost 4 thousand crores-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 24, 2020 8:34 pm
Location
Advertisement

मकराना-परबतसर में पहुंचा हिमालय का मीठा पानी, खर्च होंगे 4 हजार करोड़

khaskhabar.com : गुरुवार, 03 मई 2018 7:46 PM (IST)
मकराना-परबतसर में पहुंचा हिमालय का मीठा पानी, खर्च होंगे 4 हजार करोड़
जयपुर/नागौर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि उन्होंने जनता से जो वादे किए, उन्हें पूरा किया। सरकार को भी जनता का भरपूर प्यार और आशीर्वाद मिला। यह प्यार ही सरकार की असली ताकत है। हम जनता के इस विश्वास को कभी टूटने नहीं देंगे। राजे गुरुवार को नागौर जिले के मकराना में राजस्थान ग्रामीण पेयजल एवं फ्लोराइड निराकरण परियोजना के कार्यों के लोकार्पण तथा मकराना शहर एवं मकराना तहसील के 119 गांवों, परबतसर शहर तथा परबतसर तहसील के 110 गांवों में नहरी पेयजल वितरण परियोजना के शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रही थीं।

सिर पर मटका रख जाना पड़ता था कोसों दूर

मुख्यमंत्री ने कहा कि मकराना में पेयजल की गंभीर समस्या थी। माताओं और बहिनों को सिर पर घड़ा रख कोसों दूर से पानी लाना पड़ता था। गुणवत्ताहीन पानी से यहां के लोगों को दांतों, घुटनों और हड्डियों की समस्याओं का सामना करना पड़ता था। मैंने वादा किया था कि विश्वास रखें, आपकी मुसीबत कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगी। खुशी है कि मकराना की जनता ने जो सपना देखा था, वह आज साकार हो गया। सरकार की मेहनत रंग लाई और मकराना के घर-घर में हिमालय का मीठा पानी पहुंच गया है।

नागौर पेयजल परियोजना पर खर्च हो रहे 4 हजार करोड़


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/4
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement