hamirpur news : Hamirpur will become a Model Parliamentary Area in health facility : MP Anurag thakur-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 16, 2022 6:43 pm
Location
Advertisement

स्वास्थ्य सुविधा में हमीरपुर बनेगा मॉडल संसदीय क्षेत्र : अनुराग

khaskhabar.com : शनिवार, 17 मार्च 2018 4:49 PM (IST)
स्वास्थ्य सुविधा में हमीरपुर बनेगा मॉडल संसदीय क्षेत्र : अनुराग
हमीरपुर। हमीरपुर संसदीय क्षेत्र को स्वास्थ्य तथा सुविधा में देशभर में मॉडल क्षेत्र के रूप में विकसित करने का प्लान तैयार किया गया है। इसके लिए केंद्र तथा प्रदेश सरकार द्वारा कारगर कदम भी उठाए जा रहे हैं।

हमीरपुर सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि हमीरपुर में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर ली गई हैं तथा इसी सत्र से कक्षाएं भी शुरू की जा रही हैं। मेडिकल कालेज में 103 के करीब प्रोफेसर, सहायक प्रोफेसर तथा चिकित्सकों की तैनाती की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमीरपुर में मेडिकल कालेज खुलने से जोनल अस्पताल में चिकित्सकों की कमी को भी पूरा किया जा सकेगा।

यह जानकारी हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद अनुराग ठाकुर ने दी। उन्होंने कहा कि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के बिलासपुर जिला में 1500 करोड़ की लागत से एम्स अस्पताल बनाया जाएगा। इसमंह प्रतिवर्ष एमबीबीएस के लिए सौ तथा नर्सिंग के लिए पचास सीटें भरी जाएंगी। ऊना में पीजीआई की तर्ज पर पांच सौ करोड़ की लागत से अस्पताल बनाया जाएगा। इसमें 173 चिकित्सक तथा 1300 के करीब पैरामेडिकल स्टाफ की तैनाती की जाएगी। उना में ही बीस करोड़ की लागत से मातृ-शिशु देखभाल केंद्र भी खोला जाएगा, ताकि महिलाओं तथा नवजात बच्चों को बेहतर सुविधा मिल सके।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि हमीरपुर, उना तथा बिलासपुर में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तारीकरण से हिमाचल के लोगों को उपचार के लिए दिल्ली या चंडीगढ़ की तरफ रुख नहीं करना पड़ेगा। इसके साथ ही प्रदेश में एमबीबीएस तथा नर्सिंग की पढ़ाई की सुविधा भी युवाओं को मिलेगी।

सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि केंद्र तथा प्रदेश सरकार ने प्रदेश में आम जनमानस को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए हैं। केंद्र की मोदी सरकार ने 10 करोड़ से अधिक गरीब तथा कमजोर परिवारों को स्वास्थ्य उपचार के दायरे में लाने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण योजना आरंभ की है। इसके तहत द्वितीयक और तृतीयक देखरेख अस्पताल में भर्ती होने के लिए प्रति परिवार पांच लाख रुपए प्रति वर्ष तक का कवरेज करने का प्रावधान किया गया है। यह विश्व का सबसे बड़ा सरकारी वित्त पोषित स्वास्थ्य देखरेख कार्यक्रम है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement