Goons used to be respected in previous governments, now going to jail: Yogi-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 23, 2021 4:05 am
Location
Advertisement

पिछली सरकारों में गुंडों का होता था सम्मान, अब जा रहे जेल : योगी

khaskhabar.com : बुधवार, 28 अक्टूबर 2020 08:48 AM (IST)
पिछली सरकारों में गुंडों का होता था सम्मान, अब जा रहे जेल : योगी
उन्नाव। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा और कहा कि पिछली सरकारों में गुंडों का सम्मान हुआ करता था। भाजपा सरकार गुंडों को जेल भेज रही है। मुख्यमंत्री योगी बांगरमऊ विधानसभा क्षेत्र उपचुनाव की जनसभा में कहा कि पूर्व की सरकारों में जो जितना बड़ा अपराधी होता था, उसे उतना बड़ा पद और सम्मान मिलता था। भाजपा के शासनकाल में अराजकता करने वालों के यहां बुलडोजर चल रहा है। अपराधी जेल भेजे जा रहे हैं। पिछली सरकारों में गुंडों का सम्मान होता था, अब वह जेल भेजे जा रहे हैं। उनके कार्यकाल में किसी को कानून से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। इस सरकार में एक भी दंगा नहीं हुआ है। हुआ भी तो दंगा करने वालों से ही नुकसान की भरपाई कराई गई है।

उन्होंने कहा कि पहले 100 रुपये में 90 रुपये चाटुकार व बिचौलिए खा जाते थे, जबकि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरा पैसा गरीब के खातों में पहुंच रहा है। "हमने नौकरी देते समय जाति, मजहब देखकर नहीं देखा। यूपी की जनता ही हमारा परिवार है।"

योगी ने कहा कि गोकशी करने वालों को भी जेल जाना पड़ेगा। हम गो माता की रक्षा के प्रति कटिबद्ध हैं। गो संरक्षण के लिए आश्रयस्थल खोले गए हैं। इसके लिए सरकार पैसा दे रही है। उन्होंने केंद्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं की उपलब्धियां बताईं। 20 मिनट के संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले सरकारी नौकरियों की बोली लगती थी।

उनकी सरकार के तीन साल के कार्यकाल में किसी भी भर्ती में कोई घूस नहीं चली। कोई भी भर्ती पर अंगुली नहीं उठा सकता है। सरकार ने प्रतिभा के अनुसार युवाओं को नौकरी दी है। अन्य पार्टियों पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस में परिवार ही पार्टी है। पार्टी के हर पद व जनप्रतिनिधि तक में परिवार के ही लोग कब्जा किए हैं। इसी कारण इन पार्टियों में बेईमानी, भ्रष्टाचार चरम पर है। केवल भाजपा ही ऐसी पार्टी है जिसमे बूथ कार्यकर्ता अध्यक्ष, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, सांसद और विधायक बन सकता है। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement