Discussion on the role of women, youth and tribes of Rajasthan-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 21, 2020 8:48 pm
Location
Advertisement

अगस्त क्रांति दिवस -राजस्थान की महिलाओं, युवाओं और जनजातियों की भूमिका पर हुई चर्चा

khaskhabar.com : रविवार, 09 अगस्त 2020 8:11 PM (IST)
अगस्त क्रांति दिवस -राजस्थान की महिलाओं, युवाओं और जनजातियों की भूमिका पर हुई चर्चा
जयपुर। अगस्त क्रांति दिवस के अवसर पर कला एवं संस्कृति मंत्री, डॉ. बी.डी. कल्ला ने रवींद्र मंच पर वीडियो वॉल का वर्चुअल उद्घाटन किया। इस अवसर पर कला एवं संस्कृति विभाग की शासन सचिव, मुग्धा सिन्हा, रवींद्र मंच की प्रबंधक, शिप्रा शर्मा, पुरातत्व और संग्रहालय निदेशक, पी.सी. शर्मा और सहायक प्रोफेसर, राजस्थान विश्वविद्यालय, अभिमन्यु सिंह उपस्थित रहे।
इस अवसर पर कला एवं संस्कृति मंत्री ने कहा कि वीडियो वॉल का उद्देश्य रवींद्र मंच के लाइव सांस्कृतिक कार्यक्रमों का लोगों के लिए निशुल्क प्रदर्शित करना है। इसके अलावा इस वॉल के माध्यम से सरकारी योजनाओं के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। उन्होंने स्वतंत्रता सेनानी श्री विजय सिंह पथिक की प्रमुख भूमिका को भी याद किया, जो कि बिजोलिया आंदोलन के सृजक थे। इस आंदोलन की न केवल महात्मा गांधी बल्कि कई अन्य राष्ट्रीय नेताओं ने भी सराहना की थी। उन्होंने कहा कि भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान पथिक ने जो भूमिका निभाई, उसे देशवासी कभी नहीं भूल सकते। उन्होंने लोगों से अपने मन, वचन और कर्म से बुराइयों का मुकाबला करने का संकल्प लेने और हमेशा देश की भलाई के लिए काम करने का आग्रह किया।मुग्धा सिन्हा ने वर्तमान परिप्रेक्ष्य में ऑनलाइन उद्घाटन को प्रासंगिक बताते हुए अगस्त क्रांति दिवस के अवसर पर भारत छोड़ो आंदोलन में राजस्थान के योगदान पर प्रकाश डाला।
सिन्हा ने राजस्थान के विभिन्न शहरों जयपुर, जोधपुर, उदयपुर और कोटा पर केंद्रित भारत छोड़ो आंदोलन पर विस्तृत प्रजेंटेशन दी। उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान महिलाओं, युवाओं और जनजातियों की भूमिका पर भी प्रकाश डाला।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement