Disclaimer to use police field Dharamsala for organizing music-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 16, 2019 11:04 pm
Location
Advertisement

संगीत आयोजन के लिए पुलिस मैदान का प्रयोग करने की स्वीकृति खारिज

khaskhabar.com : शुक्रवार, 11 जनवरी 2019 8:01 PM (IST)
संगीत आयोजन के लिए पुलिस मैदान का प्रयोग करने की स्वीकृति खारिज
धर्मशाला। पुलिस मैदान में एक संगीत कार्यक्रम के आयोजन के लिए अविनाश वशिष्ठ सुपुत्र टी.आर. वशिष्ट निवासी मकान नं. 18/01 गांव व डाकघर तारागड़ तहसील भटियात जिला चम्बा हि.प्र. ने आवेदन किया था जिसने अपने पत्र पर दर्शाया था कि यह कार्यक्रम बेघर बच्चों की मदद के लिए किया जा रहा है जिसमें एक एन.जी.ओ. भी शामिल है। जो उसे इस कार्यक्रम को पुलिस मैदान धर्मशाला में दिनांक 12.01.2019 को आयोजन करने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी गई थी, लेकिन जब सूत्रों से पता चला कि इस आयोजन में विदेशी कलाकार भी भाग ले रहे हैं और काफी संख्या में लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।

जिस पर कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए आवेदक से इस आयोजन में भाग लेने वाले कलाकारों के नाम पता व यदि कोई विदेशी कलाकार है तो उसके पासपोर्ट व वीजा की छायाप्रतियां, आयोजन में आने वाले श्रोताओं के बारे कानून एवं व्यवस्था, सम्बन्धित विभागों से हासिल किए जाने वाले अनापति प्रमाण पत्रों तथा एन.जी.ओ. जो इस आयोजन को करने जा रही है के बारे, एक पत्र लिखकर जानकारी मांगी तो दिनांक 11.01.2019 को अविनाश वशिष्ठ उपरोक्त ने एक शपथ पत्र देकर उपरोक्त पत्र का जबाब दिया जिसमें बतलाया कि यह आयोजन Phenom Enterprises नामक संस्था करवा रही है।

लेकिन यह नहीं बतलाया कि इस संस्था को कौन चलाता है, कहां पंजीकृत है तथा इसकी इस संस्था में क्या हैसियत है। कलाकारों की जानकारी के संदर्भ में इन्होंने सिर्फ कलाकारों के नाम बतलाए, इनका पूरा पता नहीं बतलाया, पूरा पता न होने के कारण इनका चरित्र सत्यापन करना मुश्किल है। इस पर इन्होंने एक विदेशी कलाकार वोहिमियां (डैविड रीगल) अमरिकी मूल भी भाग लेना बतलाया लेकिन उसके पासपोर्ट व वीज़ा की छायाप्रति उपलब्ध न करवाई। अपने शपथ पत्र में आयोजन के दौरान भीड़ को साठ शेखीबाज (Bouncers) की मदद से नियन्त्रण करना बतलाया। जो कि असामाजिक व गैर कानूनी है।

उपरोक्त अविनाश वशिष्ठ ने जब इस कार्यालय से इस आयोजन को पुलिस मैदान में आयोजित करने के लिए अनुमति हासिल की थी तो अपने प्रार्थना पत्र में बहुत सारी बातों को छुपा रखा था। उसने यह नहीं बताया था कि यह एक व्यवसायिक गतिविधि है बल्कि इस गतिविधि को सामाजिक उद्देश्य हेतु बेघर बच्चों की सहायता के लिए आयोजित करने की बात कही थी। इस कार्यालय से जो अनुमति पहले स्वीकृत की गई थी उसमें हिदायत दे रखी थी कि यह कार्यालय जब किन्हीं प्रशासनिक कारणों से जरुरी समझें तो इस स्वीकृति को खारिज किया जा सकता है।

आवेदक द्धारा सामाजिक आयोजन के स्थान पर व्यवसायिक आयोजन, कलाकारों के बारे में पूरी जानकारी न देना, दस्तावेज उपलब्ध न करवाना, आयोजन के दौरान भीड़ को गैर कानूनी/गैर सामाजिक तरीके से नियन्त्रित करने, सूचना को छुपाने जैसै सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए व लोगों की जान माल की सुरक्षा हेतू व कानून व व्यवस्था में किसी व्यवधान उत्पन्न होनी की आशंका को मध्यनज़र रखते हुए जो संगीत आयोजन के लिए पुलिस मैदान धर्मशाला को प्रयोग करने की स्वीकृति दिनांक 12.01.2019 के लिए दी थी उसे जनहित में खारिज कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement