dharamshala news : The foundation stone of Central University will be in Dharamshala-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 19, 2018 11:37 am
Location
Advertisement

यहां शीघ्र ही होगा सेंट्रल यूनिवर्सिटी का शिलान्यास

khaskhabar.com : बुधवार, 12 सितम्बर 2018 3:55 PM (IST)
यहां शीघ्र ही होगा सेंट्रल यूनिवर्सिटी का शिलान्यास
धर्मशाला। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला में पीजी के नए कोर्स जियोग्राफी, केमिस्ट्री तथा एम.कॉम कक्षाओं का शुभारंभ करते हुए कहा कि किसी भी राष्ट्र के उत्थान में शिक्षा की अहम भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि शिक्षा की जरूरत को भली भांति समझते हुए प्रदेश सरकार शिक्षा क्षेत्र में ढांचागत विकास पर बल दे रही है। सभी विद्यार्थियों का गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के साथ उनके सर्वांगीण विकास पर ध्यान दिया जा रहा है। इस वितीय वर्ष में शिक्षा क्षेत्र के लिए 7044 करोड़ रुपए बजट का प्रावधान किया गया है।
खाद्य आपूर्ति मंत्री ने बताया कि विद्यार्थियों को नए कोर्सेज में जियोग्राफी विषय में 25, केमिस्ट्री में 20 तथा एमकॉम विषय में 40 सीटें उपलब्ध होंगी। सेंट्रल यूनिवर्सिटी के लिए धर्मशाला के समीप जदरांगल में 8 हजार कनाल जमीन फाइनल कर ली है तथा शीघ्र ही सेंट्रल यूनिवर्सिटी का शिलान्यास करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगले साल धर्मशाला कॉलेज में तीन नए पीजी कोर्स शुरू करने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कॉलेज के सभागार में ध्वनि प्रसार सिस्टम की मरम्मत के लिए 2.50 लाख रुपए देने की घोषणा की।
खाद्य आपूर्ति मंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में मदद कर रही है, ताकि उचित मार्गदर्शन के अभाव में अथवा आर्थिक तंगी के कारण किसी भी विद्यार्थी की तैयारी प्रभावित न हो। उन्होंने कहा कि बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को जेईई मेन, एनईईटी इत्यादि परीक्षाओं तथा अन्य उच्च स्तरीय शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश के लिए कोचिंग की आवश्यकता होती है। इसके अलावा महाविद्यालय से निकले हुए छात्रों को रोजगारपरक प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी की जरूरत होती है। उन्होंने कहा इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए प्रदेश सरकार ‘मेधा प्रोत्साहन योजना’ शुरू कर रही है। इसके तहत बच्चों को राज्य में अथवा राज्य से बाहर कोचिंग के लिए सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। सरकार ने इसके लिए 5 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इससे पहले राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला के प्राचार्य सुनील मेहता ने मुख्यातिथि का स्वागत किया तथा संस्थान की गतिविधियों के बारे में अवगत करवाया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement