Despite massive fee hike, JNU still has cheapest hostel-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 7, 2019 12:42 am
Location
Advertisement

भारी शुल्क वृद्धि के बावजूद JNU में हॉस्टल सबसे सस्ता, हुआ था प्रशासन व छात्रों में टकराव

khaskhabar.com : शनिवार, 16 नवम्बर 2019 7:00 PM (IST)
भारी शुल्क वृद्धि के बावजूद JNU में हॉस्टल सबसे सस्ता, हुआ था प्रशासन व छात्रों में टकराव
नई दिल्ली। हॉस्टल शुल्क में भारी वृद्धि के चलते जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) और विद्यार्थियों के बीच टकराव की स्थिति देखने को मिली है, लेकिन इस शुल्क वृद्धि के बावजूद यहां किराया बाकी अन्य केंद्रीय विश्वविद्यालयों की तुलना में बेहद कम है। जेएनयू की बात करें, तो अकेले कमरे के लिए फीस 20 रुपए से बढ़ाकर 600 रुपए करने का फैसला किया गया है, जबकि दो लोगों वाले कमरे के लिए यह 10 रुपए के मुकाबले 300 रुपए होगा।

व्यवस्था शुल्क सहित नई शुल्क वृद्धि के बाद अकेले कमरे के लिए हॉस्टल शुल्क 7,200 रुपए प्रति वर्ष हो गया है। हालांकि, व्यवस्था शुल्क में कोई बदलाव नहीं किया गया है, और वह प्रति सेमेस्टर 1,100 है और वार्षिक शुल्क 2,200 रुपए है। इसके अलावा बरतन व समचार पत्र के लिए क्रमश: 250 रुपए और 50 रुपए देने होंगे।

अकेले कमरे के लिए देय कुल राशि 9,700 रुपए प्रति वर्ष है, जबकि एक डबल कमरे के लिए वार्षिक शुल्क 6,100 है। राष्ट्रीय राजधानी में अन्य विश्वविद्यालयों की बात करें, तो दिल्ली विश्वविद्यालय 1922 में स्थापित हुआ था। यहां 14 से अधिक संकाय और 86 अकादमिक विभाग हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement