Describe ways to prevent and prevent villagers from seasonal diseases.-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 28, 2020 2:55 pm
Location
Advertisement

ग्रामीणों को मौसमी बीमारियों से बचाव व रोकथाम के उपाय बताए

khaskhabar.com : बुधवार, 24 अक्टूबर 2018 8:08 PM (IST)
ग्रामीणों को मौसमी बीमारियों से बचाव व रोकथाम के उपाय बताए
कोटा। निरामया कार्यक्रम के तहत बुधवार को आयोजित दूसरे चरण में मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों की टीमों ने जिले के चिन्हित 17 अलग-अलग गांवों में जाकर ग्रामीणों को साफ-सफाई और स्वच्छता का महत्व बताकर मौसमी बीमारियों खासकर मच्छर जनित डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया व जीका से बचाव और इसके नियंत्रण व रोकथाम के उपाय बताए।

कार्यक्रम के जिला नोडल अधिकारी व आरसीएचओ डॉ एमके त्रिपाठी ने बताया कि 6 विद्यार्थी और एक सूपरवाइजर समेत कुल सात सदस्यों की प्रत्येक टीम अलग-अलग गांव में पहंुची जहां गांव की आशा, एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ व सरपंच आदि की मदद से लोगों को एक जगह एकत्र कर उन्हे ’’प्रिवेन्शन एण्ड कन्ट्रोल ऑफ वैक्टर बोर्न डिजीज’’ थीम पर विस्तार से जानकारी देते हुए वर्षा से पहले गढ्डों को भरना, घरों के टंकी, कूलरों की नियमित साफ-सफाई, वृक्ष लगाने और उसकी देखभाल करने, कचरा निस्तारण, कुओं में समय-समय पर ब्लीचिंग पॉवडर डालने, तम्बाकू के दुष्परिणाम व खुले में शौच से बचने के लिए भी प्रेरित किया। टीमों ने इस दौरान 25 घरों का भ्रमण कर बेस लाइन सर्वे भी किया। इस दौरान आरसीएचओ डॉ एमके त्रिपाठी तथा डीपीएम नरेद्र वर्मा ने सुल्तानपुर ब्लॉक के कंवरपुरा गांव पहंुच गतिविधियों का जायजा लिया इस दौरान उन्होने स्वयं भी ग्रामीणों से संवाद किया। कार्यक्रम का तीसरा चरण 31 अक्टूबर को आयोजित होगा।

टीमों ने जिले के जिन 17 चिन्हित गांवों में जाकर लोगों को जागरूक किया उनमे सुल्तानपुर ब्लॉक के कंवरपुरा, गुमानपुरा, धनवा, चारचौमा व कचौलिया ब्लॉक सांगोद के कुराड़, हिंगोनिया, रूपाहेड़ा, ढोटी व श्यामपुरा ब्लॉक लाडपुरा के केबलनगर, गलाना, जाखोड़ा, ताथेड़ व कोलाना ब्लॉक इटावा के कालीसिंध ढीपरी एवं खैराबाद ब्लॉक के सहरावदा शामिल हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement