Demand for restoration of concessional facility in railways to journalists who were closed during the Corona period-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 20, 2022 3:44 am
Location
Advertisement

कोरोना काल में बंद की गई पत्रकारों को रेलवे में मिलने वाली रियायती सुविधा बहाल करने की मांग

khaskhabar.com : गुरुवार, 12 मई 2022 1:26 PM (IST)
कोरोना काल में बंद की गई पत्रकारों को रेलवे में मिलने वाली रियायती सुविधा बहाल करने की मांग
चंडीगढ़ । चंडीगढ़ एंड हरियाणा जर्नलिस्ट यूनियन (रजि.) ने इंडियन जर्नलिस्ट यूनियन के आह्वान पर पत्रकारों की मांगों को लेकर जर्नलिस्ट डिमांड डे मनाया और चंडीगढ़ के सेक्टर 17 स्थित प्लाजा में एक बैठक कर पत्रकारों को पेश आ रही समस्याओं व दिक्कतों और मांगों के बारे व्यापक विचार-विमर्श किया। इस अवसर पर पंजाब व चंडीगढ़ जर्नलिस्ट यूनियन के सदस्य भी उपस्थित रहे। बैठक के बाद यूनियन ने प्रदेश सरकार के नाम एक ज्ञापन देकर सरकार को पत्रकारों की मांगों के प्रति अवगत करवाते हुए इन्हें तुरंत पूरा करने की मांग की।

बैठक में चंडीगढ़ एंड हरियाणा जर्नलिस्ट यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष राम सिंह बराड़, सीएचजेयू के चेयरमैन बलवंत तक्षक, प्रदेश महासचिव सुरेंद्र गोयल, प्रदेश सचिव अभिषेक, उपाध्यक्ष श्रीमति निशा शर्मा व इंडियन जर्नलिस्ट यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव बलविंदर जम्मू सहित अनेक वरिष्ठ पत्रकार उपस्थित रहे।
बैठक को संबोधित करते हुए आईजेयू के राष्ट्रीय महासचिव बलविंदर सिंह जम्मू ने कहा कि पत्रकारों की जायज मांगों की पिछले काफी समय से निरंतर अनदेखी हो रही है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को कोरोना काल से पहले रेल यात्रा दौरान रियायती दरों पर यात्रा सुविधा मिलती रही है, जिसे कोरोना दौरान अस्थाई तौर पर बंद किया गया था, लेकिन अब हालात सामान्य होने के बावजूद उसे अभी बहाल नहीं किया गया। इसे तुरंत बहाल किया जाए। पत्रकारों के हितों की रक्षा के लिए केंद्र व राज्य स्तर पर पत्रकार संरक्षण कानून बनाए जाएं, ताकि पत्रकार अपना कर्तव्य बिना किसी दबाव व भय के पूरा कर सकें। प्रेस परिषद के स्थान पर मीडिया परिषद का गठन किया जाए और उसमें राष्ट्रीय स्तर की तमाम यूनियनों व संगठनों को प्रतिनिधित्व दिया जाए। राष्ट्रीय स्तर की सभी यूनियनों व संगठनों को केंद्रीय मीडिया एक्रीडिएशन कमेटी व राज्य एक्रीडिएशन कमेटियों में प्रतिनिधित्व बहाल किया जाए। पत्रकारों पर देश भर में विभिन्न स्थानों पर झूठे मामले दर्ज करना बंद किया जाए। पत्रकारों को मुख्यधारा के कोरोना योद्धा मानते हुए कोरोना काल में मारे गए सभी पत्रकारों के परिवारों को उचित आर्थिक सहायता दी जाए। पीआईबी एक्रीडिएशन रूलज में से गैर जरूरी व पक्षपाती नियम व शर्तें हटाई जाएं।

उन्होंने कहा कि देशभर में एक ऐसा माहौल कायम किया जाए, जिससे पत्रकार स्वतंत्रता के साथ निष्पक्ष होकर अपना कर्तव्य निभा सके। बलविंदर सिंह जम्मू ने कहा कि आज प्रैस की स्वतंत्रता कसौटी पर लगी हुई है और भारतीय मीडिया दुनिया भर में 150 वें स्थान पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि पिछले काफी समय से प्रेस परिषद के चेयरमैन की नियुक्ति नहीं की जा रही।
सीएचजेयू अध्यक्ष राम सिंह बराड़ व चेयरमैन बलवंत तक्षक ने कहा कि चंडीगढ़ एंड हरियाणा जर्नलिस्ट यूनियन ने काफी समय पहले प्रदेश सरकार को पत्रकारों की मांगों बारे ज्ञापन सौंपे थे, लेकिन अभी तक उन पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। पत्रकारों की जायज मांगों को तुरंत स्वीकार करके सरकार उन्हें राहत प्रदान करे।

बैठक में सीएचजेयू के प्रदेशाध्यक्ष राम सिंह बराड़, चेयरमैन बलवंत तक्षक, प्रदेश महासचिव सुरेंद्र गोयल, प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती निशा शर्मा, प्रदेश सचिव अभिषेक, विनोद कश्यप, पीसीजेयू के अध्यक्ष बलबीर सिंह जंडू, जयसिंह छिब्बर, श्रीमती ङ्क्षबदू सिंह, प्रीतम सिंह रूपाल, जगतार सिंह भुल्लर सहित अनेक वरिष्ठ पत्रकार व यूनियन के सदस्य मौजूद थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement