Delhi Fire : Sonia Gandhi appeals for help, know president and pm reactions-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 25, 2020 1:56 am
Location
Advertisement

दिल्ली अग्निकांड : सोनिया गांधी स्तब्ध, सहायता के लिए की अपील, राष्ट्रपति-पीएम ने किए ट्वीट

khaskhabar.com : रविवार, 08 दिसम्बर 2019 1:10 PM (IST)
दिल्ली अग्निकांड : सोनिया गांधी स्तब्ध, सहायता के लिए की अपील, राष्ट्रपति-पीएम ने किए ट्वीट
नई दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राष्ट्रीय राजधानी की अनाज मंडी में एक कारखाने में रविवार अल सुबह लगी भीषण आग पर हैरानी जताई है। ज्ञात हो कि इस दुर्घटना में कम से कम 43 लोगों की जान जा चुकी है। कांग्रेस द्वारा जारी किए गए बयान के अनुसार, सोनिया ने हताहतों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि अधिकारी अन्य लोगों की जान बचा लेंगे और घायलों को तत्काल उपचार सुविधा दी जाएगी। उन्होंने भाजपा की केंद्रीय सरकार और आम आदमी पार्टी की राज्य सरकार के अधिकारियों से पीडि़तों और उनके परिवारों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने का अनुरोध किया।

इसके साथ ही पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष ने कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं को बचाव और राहत कार्यों में अधिकारियों की मदद करने का भी निर्देश दिया है। इस बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हादसे पर शोक व्यक्त किया है। देश के दोनों प्रमुखों ने ट्वीट करके इसमें घायल हुए लोगों के ठीक होने की प्रार्थनाएं की हैं।

राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली की अनाज मंडी में आग लगने की भयंकर घटना के बारे में सुनकर बेहद दुख हुआ। मेरी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं पीडि़तों के परिवार के साथ है। घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं। स्थानीय अधिकारी लोगों को बचाने और उन्हें सहायता प्रदान करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने इस हादसे को बेहद भयावह बताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, इस घटना में जिन्होंने अपने परिजनों को खो दिया है उनके प्रति मेरी संवेदना है। घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं। अधिकारी घटना स्थल पर हर संभावित सहायता प्रदान करने की कोशिश कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement