Death of 5 members of a family in 22 days, claimed to be Corona-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 27, 2021 9:08 am
Location
Advertisement

22 दिनों में एक परिवार के 5 सदस्यों की मौत, कोरोना ना होने का दावा

khaskhabar.com : गुरुवार, 06 मई 2021 3:04 PM (IST)
22 दिनों में एक परिवार के 5 सदस्यों की मौत, कोरोना ना होने का दावा
गोंडा। यूपी के गोंडा में 22 दिनों के अंदर एक परिवार के 5 सदस्यों की मौत हो गई। हालांकि परिवार यह मानने से इनकार कर रहा है कि मृतक में से किसी को भी कोविड था क्योंकि एंटीजन परीक्षणों ने उन्हें नकारात्मक दिखाया था। हालांकि, सभी में घातक वायरस के लक्षण दिखाई दिए है। इस हादसे ने गोंडा के चकरौता गांव में अंजनी श्रीवास्तव के परिवार को तोड़कर रख दिया है।

अंजनी के बड़े भाई हनुमान प्रसाद का निधन 2 अप्रैल को हुआ था। वह 56 वर्ष के थे।

पारिवारिक सूत्रों ने कहा कि हनुमान प्रसाद को सांस लेने में तकलीफ हुई और उनकी चिकित्सा करने से पहले ही उनकी मृत्यु हो गई।

14 अप्रैल को, अंजनी की 75 वर्षीय मां, माधुरी देवी का निधन हो गया था। परिवार का दावा है कि वह अपने बड़े बेटे के निधन को सहन नहीं कर सकी।

माधुरी देवी के पोते, सौरभ, जो प्रयागराज में पढ़ रहे थे, अपनी दादी की मौत की खबर सुनकर घर आए। वह पीलिया से पीड़ित था और जब उसकी हालत बिगड़ी तो उसे गोंडा के एक नसिर्ंग होम में भर्ती कराया गया। 16 अप्रैल को उनका निधन हो गया।

बेटे के निधन के बाद सौरभ के माता पिता बीमार पड़ गए और दोनों को एक नसिर्ंग होम में भर्ती कराया गया। उन्हें ऑक्सीजन सहायता के लिए रखा गया था, लेकिन 22 अप्रैल को 41 वर्षीय मां उषा श्रीवास्तव का निधन हो गया। उनके पति, 45 साल के अश्विनी श्रीवास्तव का 24 अप्रैल को निधन हो गया था। दोनों को तेज बुखार था, लेकिन उन्होंने कोविड के लिए नकारात्मक परीक्षण किया था।

जब स्थानीय भाजपा नेताओं को इस त्रासदी के बारे में पता चला, तो उन्होंने जिला प्रशासन से जांच करने को कहा। हालांकि, जब जिला अधिकारियों ने अंजनी श्रीवास्तव से संपर्क किया, तो उन्होंने जोर देकर कहा कि परिवार के सदस्यों की स्वाभाविक मौत हो गई।

इस बीच, सूत्रों ने कहा कि परिवार कोविड के कलंक का सामना नहीं करना चाहता था, इसलिए जोर देकर कहा कि पांच सदस्यों की प्राकृतिक मौत हो गई थी।

एक स्थानीय निवासी ने कहा, "चूंकि उन्होंने कोविड के लिए नकारात्मक परीक्षण किया था, इसलिए कोई भी कोरोना का दावा नहीं कर सकता है। "
--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement