Deals quickly on Antyoday portal, will be against prosecuting officials-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 18, 2019 9:27 pm
Location
Advertisement

अंत्योदय पोर्टल पर शिकायतों को जल्द निपटाएं, अन्यधा अधिकारियों पर होगी कार्यवाही

khaskhabar.com : गुरुवार, 18 जुलाई 2019 6:47 PM (IST)
अंत्योदय पोर्टल पर शिकायतों को जल्द निपटाएं, अन्यधा अधिकारियों पर होगी कार्यवाही
चंडीगढ़। मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने अंत्योदय और सरल केंद्रों में आमजन को दी जाने वाली योजनाओं और सेवाओं का लाभ निश्चित समय में देने के लिए विभागों को सख्त दिशा निर्देश देते हुए कहा कि वे अपनी कार्यप्रणाली को दुरुस्त करें और जिला स्तर पर कर्मचारियों की ट्रेनिंग करवाएं।

डॉ. राकेश गुता अंत्योदय सरल प्रोजेक्ट पर नोडल अधिकारियों की समीक्षा बैठक ले रहे थे।

बैठक में डॉ. राकेश गुता ने परिवहन, महिला एवं बाल विकास, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, एचएसआईआईडीसी और शहरी स्थानीय निकाय विभाग को जल्द से जल्द अपनी कार्यशैली में सुधार करने के निर्देश दिये। उन्होंने विभागों को अंत्योदय पोर्टल के टिकटिंग सिस्टम पर आने वाली टिकटों पर भी त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही प्रतिदिन भेजी जाने वाली महत्वपूर्ण टिकटों पर विभाग त्वरित कार्रवाई करे।

डॉ. गुप्ता ने नोडल अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अंत्योदय पोर्टल पर प्राप्त आवेदन या शिकायतों को जल्द निपटाएं नहीं तो कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की जा सकती है। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा अगर कोई आवेदन या शिकायत रद्द की जाती है तो उसका सही कारण बतायें जो आमजन समझ पाएं। उन्होंने कहा कि विभागों के अधिकारीगण सरल केंद्र के माध्यम से आवेदन करवाने को बढ़ावा दें और प्राप्त आवेदनों का निपटारा राईट टू सर्विस एक्ट में निर्धारित समय अवधि में करें।

डॉ गुप्ता ने कहा कि पोर्टल में कुछ बदलाव किए गए हैं और एक नॉलेज मैनेजमेंट सिस्टम बनाया गया है, जिसके माध्यम से संबंधित विभाग द्वारा दी जा रही सेवाओं के लिए जरूरी दस्तावेजों, फीस, सेवा के लिए पात्रता मानदंड जैसी संपूर्ण जानकारी इस सिस्टम पर होगी। उन्होंने कहा कि इससे आमजन के साथ-साथ अधिकारियों, कर्मचारियों और ऑपरेटरों को भी सुविधा मिलेगी जिससे सभी को यह पता लग सकेगा कि किस सुविधा के लिए कौन व्यक्ति पात्र है और कौन नहीं।

उन्होंने कहा कि सरल कॉल सेंटर ऑपरेटरों को विभागों द्वारा दी जाने वाली योजनाओं और सेवाओं के बारे में जानकारी नहीं है, इस कारण आमजन को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसके लिए विभागों की ओर से एक नोडल अधिकारी लगाया जाए जो सरल कॉल सेंटर ऑपरेटरों को ट्रेनिंग देगा ताकि उन्हें संबंधित विभागों द्वारा दी जा रही योजनाओं और सेवाओं की पूर्ण जानकारी मिल सके।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement