Counting of votes on Ramgarh assembly seat-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 13, 2019 9:10 pm
Location
Advertisement

रामगढ़ विधानसभा सीट: कांग्रेस प्रत्याशी साफिया जुबेर खां विजय रहीं

khaskhabar.com : गुरुवार, 31 जनवरी 2019 2:24 PM (IST)
रामगढ़ विधानसभा सीट: कांग्रेस प्रत्याशी साफिया जुबेर खां विजय रहीं
अलवर ।राजस्थान की रामगढ़ विधानसभा सीट पर हुए चुनाव में कांग्रेस ने गुरुवार को जीत दर्ज कर ली है और इसी के साथ 200 सदस्यीय विधानसभा में अब उसके विधायकों की संख्या 100 हो गई है। कांग्रेस उम्मीदवार सफिया खान ने 12,228 के अंतर से जीत हासिल की है। उन्हें कुल 83,311 वोट मिले जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उनके करीबी प्रतिद्वंद्वी सुखवंत सिंह को 71,083 वोट मिले हैं।

बहुजन समाज पार्टी (भाजपा) के जगत सिंह 24,856 वोटों के साथ तीसरे स्थान रहे हैं।

इस जीत से उत्साहित सफिया खान ने कहा, "यह लोगों की जीत है। मैं इसके लिए लोगों को बधाई देती हूं।

उन्होंने कहा, "भाजपा बात ज्यादा और काम कम करती है। उसने उन स्कूलों को बंद कर दिया जो हमने शुरू किए थे। वे समाज कल्याण की योजनाओं को लागू करने में पक्षपाती थे और इसलिए लोग उस ध्रुवीकृत वातावरण से बाहर निकलना चाहते थे जो भाजपा ने बनाया था।"

सफिया ने आगे कहा, "इसलिए लोगों ने कांग्रेस के लिए एकजुट होकर मतदान किया है।"

सफिया खान को जहां 44.77 फीसदी वोट मिले, वहीं भाजपा का वोट शेयर 38.20 फीसदी रहा।

कुल मिलाकर 241 लोगों ने नोटा दबाया।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुरेश चौधरी ने आईएएनएस से कहा, "कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किए गए अपने सभी वादों को पूरा करके मतदाताओं के बीच अपनी विश्वसनीयता बनाई है। राज्य के लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के द्वारा किए गए ध्रुवीकरण से तंग आ चुके थे।"

उन्होंने कहा, "जीत का यह व्यापक अंतर कहानी बयां करता है।"

रामगढ़ के निर्वाचन अधिकारी पंकज शर्मा ने कहा कि मतगणना बाबू शोभाराम शासकीय कला महाविद्यालय में संपन्न हुई।

रामगढ़ सीट पर भी चुनाव सात दिसंबर को राजस्थान विधानसभा की बाकी सीटों पर हुए चुनावों के साथ होने थे, लेकिन बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह के निधन के बाद इसे स्थगित कर दिया गया था।

28 जनवरी को हुए मतदान में भारी संख्या में लोगों ने वोट दिया था।

कांग्रेस का 200 सदस्यीय सदन में 100 सीटों का आंकड़ा पूरा करने के लिए यह सीट जीतने का लक्ष्य था। यह जीत भाजपा-विरोधी दलों पर कांग्रेस की निर्भरता को कम कर देगी।

बहुमत के लिए पार्टी को 101 सीटों की जरूरत है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement