congress namdar sinned in 1984, even after this, such an ego, anesthesia: pm Modi in mandi himachal pradesh -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 10, 2021 4:41 am
Location
Advertisement

नामदारों ने 1984 में पाप किया, उसके बाद भी इतना अहंकार, संवेदनहीनता : मोदी

khaskhabar.com : शुक्रवार, 10 मई 2019 11:23 PM (IST)
नामदारों ने 1984 में पाप किया, उसके बाद भी इतना अहंकार, संवेदनहीनता : मोदी
मंडी। लोकसभा चुनावों के प्रचार में लगे पीएम नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट पर बीजेपी उम्मीदवार रामस्वरूप शर्मा के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया।

सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल के लोगों की आत्मीयता, उनका अपनापन, मेरे जीवन के वो पल हैं जो हमेशा मेरे साथ रहेंगे। हिमाचल के चप्पे-चप्पे का मुझ पर अधिकार है। जब पुलवामा में हमारे जवान शहीद हुए थे।

तो पूरे हिमाचल में आक्रोश था। आप सभी चाहते थे कि आतंकियों और उनके आकाओं को सजा दी जाए। आपके इस चौकीदार ने आपकी आवाज, भावनाओं की कद्र की और अपने वीर जवानों को सीमा पार करके आतंकियों पर कार्रवाई की खुली छूट दे दी।

उन्होंने कहा कि 2016 में आपने देखा की हमारे वीर सपूतों ने सर्जिकल स्ट्राइक की तो कांग्रेस के नामदार ने पाकिस्तान की बजाय मुझे गाली देनी शुरू कर दी। इस साल भी फरवरी में एयर स्ट्राइक के बाद से कांग्रेस के नामदार और उनके रागदरबारी, मोदी को गाली देने में जुटे हैं। मैं आप सभी से पूछना चाहता हूं कि जो भारत के टुकड़े करने और हमारे जवानों को लाचार करने की साजिश रचते है, क्या उनकी जमानत जब्त नहीं होनी चाहिए।


पीएम ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस ने जिसे मुख्यमंत्री बनाया, वो कहते हैं कि सेना में वो जाता है, जिसके पास पेट भरने के लिए कुछ नहीं होता। क्या हिमाचल की बहादुर मां अपने बेटे को इसलिए फौज में भेजती है कि उसे दो वक्त की रोटी नहीं खिला पाती। ये यहां के वीर जवानों का अपमान है या नहीं?

सेना में जाने वालों का ऐसा अपमान करने वालों को कांग्रेस सम्मान देती है, उन्हें मुख्यमंत्री बनाती है। यही कांग्रेस औऱ उसके महामिलावटी साथी हैं, जो देश के सेना अध्यक्ष को गली का गुंडा कहते हैं, वायुसेना के अध्यक्ष को झूठा कहते हैं। कांग्रेस ने वर्षों से हमारे जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट के लिए तरसा रखा था, इन्हें जवानों की परवाह नहीं थी। हमारी सरकार बनने के बाद हमने इसे भी पूरा किया।

उन्होंने कहा कि मैं उनको याद दिलाने आया हूं कि कांग्रेस के नामदारों के कारण जो पाप 1984 में हुआ, उसका न्याय देने का काम हमारी सरकार कर रही है। पहली बार सिख दंगों में न्याय हुआ है, दोषियों को उम्रकैद और फांसी की सजा हो रही है। उन्होंने कहा कि सिख दंगों पर कांग्रेस की सोच कल उसने फिर सार्वजनिक की है। कांग्रेस ने कहा है कि सिख दंगा ‘हुआ तो हुआ’। सिखों का कत्लेआम ‘हुआ तो हुआ’। इतना अहंकार, इतनी संवेदनहीनता।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement