Congress denied permission for Nyay Yatra-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Apr 7, 2020 7:40 pm
Location
Advertisement

न्याय-पदयात्रा : जितिन प्रसाद सहित कांग्रेस के कई नेता नजरबंद

khaskhabar.com : सोमवार, 30 सितम्बर 2019 3:05 PM (IST)
न्याय-पदयात्रा : जितिन प्रसाद सहित कांग्रेस के कई नेता नजरबंद
शाहजहांपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व नेता स्वामी चिन्मयानंद के मामले को लेकर कांग्रेस सोमवार को जहां एक ओर शाहजहांपुर से पदयात्रा निकालने पर अड़ी रही, वहीं जिला प्रशासन ने उनकी यात्रा पर रोक लगा दी। पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद और कांग्रेस विधायक दल के नेता अजय कुमार लल्लू को नजरबंद कर दिया गया।

सिटी मजिस्ट्रेट वीनिता सिंह ने कहा कि यात्रा पर रोक त्योहारों के मद्देनजर लगाई गई।

उन्होंने कहा, "यात्रा निकाले जाने से कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका के चलते हमने पहले ही मना कर दिया था। धारा 144 लागू होने के बावजूद भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने इसका उल्लंघन किया।"

वीनिता सिंह ने कहा कि उन्होंने सबको समझाने का प्रयत्न किया लेकिन नहीं मानने पर मुख्यालय में प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने कहा, "साथ पार्टी के बड़े नेताओं को शाहजहांपुर स्थित आवास पर रोका गया है।"

सिटी मजिस्ट्रेट ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यात्रा की अनुमति कल (रविवार) रात मांगी थी और उनके लिए इतनी जल्दी इस बाबत इंतजाम कर पाना संभव नहीं था। इसीलिए इसे लेकर इजाजत नहीं दी गई।

वीनिता सिंह ने कहा, "इसके बावजूद कानून की परवाह किए बिना कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यात्रा को जबरदस्ती निकालने का प्रयास किया, जिसके कारण कार्रवाई करनी पड़ी।"

पदयात्रा की अनुमति नहीं दिए जाने के बाद भी कांग्रेसियों के रुख को देखते हुए जिला प्रशासन ने जबरदस्त मोर्चाबंदी की है।

शाहजहांपुर में पुलिस की जबरदस्त तैनाती की गई है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर और पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। उन्हें और अन्य कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन में रखा गया है।

पुलिस लखनऊ से शाहजहांपुर जा रहे कांग्रेस नेताओं को बेहटा गोकुल थाने के पास गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले गई। इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी की। उन्होंने चिन्मयानंद मामले में 'न्याय यात्रा' ना निकालने देने का आरोप लगाया।

गौरतलब है कि चिन्मयानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छात्रा को न्याय दिलाने के लिए कांग्रेस की ओर से प्रस्तावित न्याय पदयात्रा को प्रशासन ने अनुमति देने से इंकार कर दिया था। कांग्रेस की यह न्याय यात्रा शाहजहांपुर से लखनऊ तक होनी थी।

दो दिन से पदयात्रा की तैयारी में जुटे कांग्रेस पदाधिकारी रविवार देर रात तक प्रयास में लगे रहे कि अनुमति किसी तरह मिल जाए। कांग्रेस जिलाध्यक्ष कौशल मिश्रा ने बताया कि यात्रा की अनुमति हर हाल में मिलेगी। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement