CM expresses green signal to Haridwar New Train from Hisar in Kurukshetra-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 12, 2020 6:36 am
Location
Advertisement

सीएम ने कुरुक्षेत्र में हिसार से हरिद्वार नई रेलगाड़ी को हरी झंडी दिखाई

khaskhabar.com : गुरुवार, 30 नवम्बर 2017 7:00 PM (IST)
सीएम ने कुरुक्षेत्र में हिसार से हरिद्वार नई रेलगाड़ी को हरी झंडी दिखाई
कुरूक्षेत्र। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हिसार से हरिद्वार बरास्ता कुरुक्षेत्र एवं अम्बाला जाने के लिए नई रेलगाड़ी का शुभारम्भ आज किया गया है और इस नई रेलगाड़ी का नाम गीता-गंगा एक्सप्रेस होगा।
मुख्यमंत्री ने यह जानकारी गुरूवार को कुरुक्षेत्र में केन्द्रीय रेल राज्यमंत्री राजेन गोहांई की उपस्थिति में रोहतक-महम-हांसी नई रेल लाईन के निर्माण कार्य का शुभारम्भ, कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन पुनर्निर्माण कार्य का शिलान्यास एवं हिसार से हरिद्वार बरास्ता कुरुक्षेत्र एवं अम्बाला के लिए चलाई गई नई रेलगाड़ी के शुभारम्भ अवसर पर दी। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष हरिद्वार से श्रीकृष्ण जी जन्मस्थली मथुरा के लिए एक रेलगाड़ी शुरू की गई थी, जिसका नाम गीता जयंती एक्सपे्रस रखा गया था और इस वर्ष भारतीय रेल की एक ओर उपलब्धि के तहत हिसार से हरिद्वार के लिए एक नई रेलगाड़ी शुरू की गई है, जिसका नाम गीता-गंगा एक्सपे्रस होगा। उन्होंने कहा कि यह दोनो रेलगाडिय़ां श्रीकृष्ण की जन्मस्थली और श्रीकृष्ण की कर्मस्थली को हरिद्वार से जोड़ेंगी जो एक अध्यात्मिक नगरी है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से सीधा संवाद स्थापित करते हुए कहा कि यह रेलगाड़ी कुरुक्षेत्र में प्रात:10.40 बजे हरिद्वार जाने के लिए लोगों को उपलब्ध होगी और उसी दिन यह सांय 8.30 बजे वापिस आ जाएगी। इसी प्रकार रोहतक-महम-हांसी रेल लाईन के शुरू होने से लगभग 70 किलोमीटर का रास्ता कम होगा, जिससे हरियाणा की जनता को काफी सहूलियत होगी। वहीं दूसरी ओर महाभारत और गीता उपदेश की भूमि कुरुक्षेत्र के रेलवे स्टेशन का भी पुन: निर्माण किया जाएगा, उन्होंने कहा कि इस पुनर्निर्माण के तहत कुरुक्षेत्र के रेलवे स्टेशन की रिमॉडलिंग इस प्रकार से होगी कि स्टेशन पर उतरने वाले यात्रियों को लगे कि वह एक धर्म व अध्यात्मिक नगरी में उतरें हैं।

उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्ष के वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान हरियाणा में रेलवे के इन्फ्रास्ट्रक्चर में बढ़ौतरी हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य में पिछले तीन वर्षों में आरओबी और आरयूबी का निर्माण हुआ है और राष्ट्रीय राजमार्गों पर फाटकों को समाप्त करने के लिए आरओबी और आरयूबी का निर्माण किया जा रहा है। इसी कड़ी में राष्ट्रीय राजमार्ग और राज्य राजमार्गों पर फाटकों को समाप्त करके आरओबी और आरयूबी बनाए गए हैं। उन्हेांने कहा कि पिछले तीन वर्षों में रेलवे का जितना इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित किया गया है, उतना 48 वर्षों में भी नही हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोनीपत-जींद रेल लाईन चालू होने से मध्य हरियाणा और पश्चिमी हरियाणा आपस में जुड़ा है और लोगों को सुविधा हुई है।

उन्होंने कहा कि कुरुक्षेत्र में देश और दुनिया के लोग आते हैं और इस नाते से भी यहां पर परिवहन की सुविधाओं को सुधारा जा रहा है। उन्होंने कहा कि अब तक अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में 25 लाख लोग आ चुके हैं और कुरुक्षेत्र को मोक्ष की धरती माना जाता है, जहां जल, धल और वायु तीनो की उपस्थिति में मोक्ष की प्राप्ति होती है। उन्होंने कहा कि कृष्ण सर्किट योजना के अंतर्गत 95 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है। इससे पूर्व रेल राज्यमंत्री राजेन गोहांई ने कहा कि इस कार्यक्रम में रेलमंत्री श्री पीयूष गोयल किसी कारणवश नही आ सके, जिनकी जगह पर वे आए हैं और वे सौभाग्यशाली हैं कि वे महाभारत और गीता की सृष्टि की धरती पर उनका आना हुआ है। उन्होंने कहा कि कुरुक्षेत्र रेलवे स्टेशन एक महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है और इसके पुन निर्माण के लिए 9 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी और यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैया होंगी।

इस अवसर पर हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री श्री कृष्ण कुमार बेदी ने आए हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र को रेलगाड़ी के माध्यम से हरिद्वार से जोडऩे का यह एतिहासिक कार्य किया जा रहा है, जहां लोगों की आस्था कुरुक्षेत्र से भी है, वहीं हरिद्वार में भी लोगों की आस्था है और गीता जयंती के इस शुभ अवसर पर इस रेलगाड़ी को चलाया जा रहा है। उन्होंने उपस्थित रेल राज्यमंत्री से मांग की कि इस रेलगाड़ी का ठहराव शाहाबाद (मारकंडा) में भी किया जाए ताकि लोगों को हरिद्वार आने-जाने में सुविधा मुहैया हो सके। इससे पूर्व उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक विश्वेश चौबे ने रेलवे विभाग की उपलब्धियों की जानकारी दी और आए हुए अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री तथा केन्द्रीय मंत्री सहित अन्य अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया। मुख्यमंत्री तथा केन्द्रीय मंत्री सहित अन्य अतिथियों ने हरी झंडी दिखाकर हरिद्वार के लिए रेलगाड़ी को रवाना भी किया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement