Chief Minister Manohar Lal announcements-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 16, 2019 10:55 pm
Location
Advertisement

हरियाणा के लिए सौगातों की झड़ी, यह खबर पढ़ें

khaskhabar.com : गुरुवार, 01 नवम्बर 2018 7:36 PM (IST)
हरियाणा के लिए सौगातों की झड़ी, यह खबर पढ़ें
पानीपत । मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा दिवस के मौके पर प्रदेश के लोगों के लिए सौगातों की झड़ी लगाते हुए ग्रामीणों को बड़ी राहत देते हुए लाल डोरे की प्रथा को खत्म करने की घोषणा की और कहा कि अब प्रोपर्टी की रजिस्ट्री हो सकेगी और उनका रैवन्यू रिकोर्ड भी बनाया जाएगा। वहीं मुख्यमंत्री ने आज से वृद्धावस्था, विधवा व दिव्यांग पेंशन की राशि बढाक़र 2000 रुपए कर दिए जाने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री ने गुरुवार को पानीपत में विधायक महिपाल ढांडा द्वारा आयोजित जनविश्वास रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि अब प्रदेश के सभी भूतपूर्व सरपंचों, जिला परिषदों व ब्लॉक समितियों के प्रधानों को सम्मान के रूप में एक अवधि (योजना) के लिए 1000 रुपये प्रति माह तथा अधिकतम 2000 रुपये प्रति माह पैशन देने की घोषणा की। ढ़ाई साल या इससे अधिक के कार्यकाल को पूरी अवधि माना जायेगा।
मुख्यमंत्री ने सभी नगर निगमों के सभी भूतपूर्व मेयर को भी हर अवधि के लिए 2500 रूपये तथा भूतपूर्व सीनियर डिप्टी मेयर, भूतपूर्व डिप्टी मेयर, हर नगर परिषद के प्रधान को 2000 रूपये व नगर पालिका के भूतपूर्व प्रधानों को हर अवधि के लिए 1000 रुपये प्रति माह उन्हें सम्मान के रूप में पैंशन देने की घोषणा भी की। यह पैंशन अधिकतम दो अवधि (योजना) के लिए दी जायेगी।

सरकार के किसी भी विभाग/बोर्ड/कार्पोरेशन तथा स्थानीय निकायों में काम करने वाले सभी लाईन मैन, सहायक लाईन मैन, फायर मैन, फायर ड्राईवर और सीवर मैन को उनका काम अधिक जोखिम भरा होने के कारण, सरकार द्वारा अपने खर्चे से 10 लाख रूपये का जीवन बीमें की सुविधा उपलब्ध करवाने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ सभी रजिस्टर्ड सीवर मैन को भी दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 20 नवम्बर, 2017 को हरियाणा सरकार के सभी कर्मचारियों को 6 तरह की बीमारियों के लिए कैश-लैस स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाई गयी थी। अब इसका स्कोप बढ़ाकर सभी बीमारियों तक बढ़ाने तथा चिकित्सा प्रतिपूर्ती की सारी की सारी स्कीम को कैश-लैस करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में आई0टी0आई0, पोलीटेक्निक, कॉलेजों तथा यूनिवर्सिटियों में पढ़ने वाले सभी छात्र-छात्राओं को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए सरकारी दफतरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगें। सभी इच्छुक विद्यार्थियों के लरनिंग लाईसेंस अब इन संस्थानों के प्रधानाचार्यों द्वारा ही जारी किए जायेंगे तथा रेगूलर लाईसेंस के लिए ड्राईविंग टेस्ट भी उन्हीं के शिक्षा संस्थानों में वहीं लिए जायेंगे तथा ड्राईविंग टेस्ट में पास होने का प्रमाणपत्र भी वहीं से जारी किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘सक्षम युवा सम्मानित हुआ स्कीम’ 1 नवम्बर, 2016 को शुरू की गई थी। इसके तहत पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री वाले बेरोजगार युवकों को हर महीने 100 घण्टे काम दिया जाता है। इस कार्य में मानदेय और बेरोजगार भत्ते को मिलाकर 9000 रुपये प्रति माह दिया जाता है। इसके बाद 1 नवम्बर, 2017 को बीएससी, बीकॉम, बीए मैथस के लिए भी इस स्कीम को लागू किया गया। मानदेय और बेरोजगार भत्ते को मिलाकर उन्हें 7500 रुपये प्रति माह दिया जाता है। इस समय 30668 पोस्ट ग्रेजुएट और 22124 ग्रेजुएट इस स्कीम में रजिस्टर्ड हैं। उन्होंने आज 1 नवम्बर, 2018 से हर प्रकार के स्नातक के लिए स्कीम को लागू करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने सभी गे्रजुएट बेराजगार युवाओं से अनुरोध है कि वे इस स्कीम के तहत लाभ लेने के लिए अपना नाम जल्दी से जल्दी रजिस्टर करवायें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने 4 साल में 2279 कि0मी0 लंबी नई सड़कें बनाई हैं इसके अलावा 1505 कि0मी0 नई सड़कों की स्वीकृति दी है। जिन पर काम चल रहा है। इनमें 689 कि0मी0 लोक निर्माण विभाग तथा 816 कि0मी0 एचएसएएमबी की है। उन्होंने घोषणा की कि अब खेतों को जाने वाले रास्ते जो 3/4 करम के हैं, को पक्का किया जायेगा। इसी वित्त वर्ष के दौरान हमारी सरकार हर विधानसभा क्षेत्र में 25 कि0मी0 लम्बे रास्ते को पक्का कर रही है।

मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि भविष्य में सिचांई विभाग द्वारा खाले 24 फुट प्रति एकड़ की बजाए 40 फुट प्रति एकड़ के हिसाब से बनाएं जाऐंगें।

मुख्यमंत्री ने केएमपी के पूर्ण होने की बधाई देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 10 नवंबर को इसका उद्घाटन किया जाएगा। इसके साथ ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र पानीपत ग्रामीण वासियों को मनोहर सौगात देते हुए लगभग 78 करोड़ रुपये की 36 विकास परियोजनाओं की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने रैली से पूर्व नए सरकारी अस्पताल में 200 बैड के नए ब्लॉक का भी उद्घाटन किया। उन्होंने रैली स्थल पर 30 एमएलडी क्षमता के मलजल शोधन संयत्र और सरकारी वैट्रनरी पॉली क्लीनिक का उद्घाटन व समालखा से इसराना सडक़ तथा समालखा से सनौली सडक़ की आधारशीला रखी।

मुख्यमंत्री ने पानीपत ग्रामीण के विधायक द्वारा रखी गई 36 मांगों को स्वीकृति प्रदान की। जिसमें मुख्य रूप से पानीपत नगर निगम क्षेत्र के हर वार्ड में 3 टयूबवेल, नहर के साथ लगती गोहाना से असंध सडक़ को फोर लेन बनाने, एनएफएल तक आरसीसी, ड्रेन नम्बर 1 से सनौली रोड तक आरसीसी की पक्की सडक़ बनाने, बाल विकास स्कूल मॉडल टाउन से जाटल रोड़ रजवाहे के ऊपर व जाटल रोड़-गोहाना रोड़ रजवाहे के ऊपर तक सडक निर्माण करने, सैक्टर 12 में पुराने सामुदायिक केन्द्र के स्थान पर बहुउद्ेशीय हॉल, 2 बड़ी व 4 छोटी वैक्यूम क्लीनर मशीनें उपलब्ध करवाना शमिल है। इसके अलावा गन्दे पानी के निकासी के लिए आरसीसी ड्रेन के निमार्ण के लिए 10 करोड़ रूपये और अन्य कार्यो के लिए 15 करोड़ रूपये अलग से देने की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसराना विधानसभा के लिए वर्ष 2018 की 39 करोड़ रुपये की 29 घोषणाएं की गई हैं। इसके अलावा पानीपत की तरह अन्य कार्यों के लिए इसराना को भी 15 करोड़ रुपये अलग से देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 48 वर्षों में हरियाणा में बहुत काम होने चाहिए थे। कम या ज्यादा हर सरकार ने काम किया है। लेकिन कुछ काम ऐसे हैं जिन्हें सिर्फ हमने किया, उन्हें वो भी कर सकते थे। लेकिन या तो उनकी मंशा नहीं थी या वो भ्रष्टाचार में लिप्त रहे। उन्होंने कहा कि हमने व्यवस्था परिवर्तन का काम किया जिसका लाभ हरियाणा की जनता उठा रही है। उन्होंने कहा कि आम जन को सरकारी सेवाएं घर बैठे उपलब्ध करवाने के लिए अंत्योदय केंद्र, अटल सेवा केंद्र और ग्राम सचिवालयों के माध्यम से विभिन्न विभागों की 400 योजनाओं को ऑनलाइन कर लोगों को एक ही छत के नीचे सुविधाएं देने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि आमजन की समस्याएं आसानी और तेजी से सरकार के पास पहुंचे इसके लिए सीएम विंडो प्रारम्भ की गई, जिसमें आज तक 4 लाख 70 हजार शिकायतों का समाधान हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारी किसानों के जमीनी झगडों से सम्बांधित राजस्व कोर्ट में चलने वाले केसों के दृष्टिगत दिए जाने वाले रिमाण्ड की पावर को समाप्त कर दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर गांव के शमशान घाट में शेड की व्यवस्था, चार दिवारी, पानी और रास्ते के निर्माण के लिए 700 करोड़ रुपए दिए गए। अगले 6 माह में यह काम पूरा हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में जल स्तर को ऊपर उठाने व पानीपत की उपलब्धता को बढाने के लिए व हरियाणा के तालाबों के जीर्णोद्धार की व्यवस्था करने के लिए तालाब प्राधिकरण की स्थापना की गई जिसके अंतर्गत 14 हजार तालाबों के पानी का उपयोग मवेशियों के साथ-साथ बागवानी व सिंचाई के लिए किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पर्यावरण में सुधार के लिए 6वीं से 12वीं कक्षा तक के 21 लाख विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे एक-एक पौधा अवश्य लगाएं और उसे सुरक्षित भी रखें। पौधे को सुरक्षित रखने के लिए तीन साल तक हर छह माह में 50 रुपए दिए जाएंगे। इससे आने वाले समय में पर्यावरण की दृष्टि से बहुत लाभ होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस सरकार के 10 साल के कार्यकाल में 6500 घोषणाएं हुई जबकि हमारे 4 साल के कार्यकाल में 6800 घोषणाएं हुई हैं। जबकि अभी एक साल शेष है और इस वर्ष में विकास की गति नहीं रूकेगी। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि पांचवें वर्ष में सिर्फ वहीं घोषणाएं करेंगे जिन्हें एक वर्ष में पूरा किया जा सके।

उन्होंने कहा कि आज हरियाणा देश में कई मामलो में अग्रणी है। उन्होंने कहा कि प्रतिव्यक्ति आय के हिसाब से हरियाणा देश में प्रथम स्थान पर है। राज्य में प्रति व्यक्ति आय 1 लाख 96 हजार 800 रुपये है, जो देश में सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। भावांतर भरपाई योजना से किसानों को जोखिम फ्री बनाया गया है।

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कृषि को लाभकारी व्यवसाय बनाने और किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए स्वामी नाथन आयोग की रिपोर्ट को लागू किया है। अब किसानों को उनकी फसल की लागत का डेढ़ गुणा मूल्य दिया जाएगा। इस योजना के तहत हरियाणा के किसानों को 1500 करोड़ रूपये का लाभ इस दिपावली पर होगा। वर्तमान सरकार ने कृषि को जोखिम फ्री बनाया है। हमारी सरकार ने पहली बार 12 हजार रुपये प्रति एकड़ की दर से किसानों को मुआवजा दिया। उन्होंने कहा कि ये सरकार सही मायनों में किसान की चिंता और उसकी समस्याओं को दूर करने वाली सरकार है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement