Chief Electoral Officer giving this information to the voter ID-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 21, 2019 3:12 am
Location
Advertisement

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने वोटर आईडी को लेकर दिए यह निर्देश

khaskhabar.com : शनिवार, 09 फ़रवरी 2019 7:05 PM (IST)
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने वोटर आईडी को लेकर दिए यह निर्देश
चंडीगढ़ । हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) राजीव रंजन ने कहा कि सभी शिक्षण संस्थाओं में पढऩे वाले तथा 1 जनवरी 2019 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर चुके पात्र युवाओं के वोट बनाए जाएं। हरियाणा में पढऩे वाला कोई भी विद्यार्थी संबंधित संस्थान के मुखिया से प्रमाण-पत्र लेकर वोट बनाया जा सकता है।

वे हिसार में छह जिलों, हिसार, फतेहाबाद, सिरसा, भिवानी, जींद व चरखी दादरी के चुनाव से जुड़े उच्चाधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने आगामी लोकसभा आम चुनाव की तैयारियों तथा शांतिपूर्ण, पारदर्शी व निष्पक्ष चुनाव करवाने के संबंध में अधिकारियों को व्यापक दिशा-निर्देश दिए।


बैठक में हिसार के उपायुक्त अशोक कुमार मीणा, फतेहाबाद उपायुक्त डॉ. जेके आभीर, सिरसा उपायुक्त प्रभजोत सिंह, जींद उपायुक्त अमित खत्री व चरखी दादरी के उपायुक्त अजय तोमर भी मौजूद थे।

राजीव रंजन ने कहा कि सभी सरकारी व निजी कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, आईटीआई, बहु-तकनीकी सहित अन्य संस्थानों में पढऩे वाले 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी पात्र युवाओं के वोट बनाने के लिए विशेष अभियान चलाया जाए।

उन्होंने बताया कि इस बार चुनाव आयोग ने निर्वाचन प्रक्रिया को पारदर्शी व निष्पक्ष बनाने के लिए अनेक सुधार किए हैं। अब से पहले सर्विस वोटर्स के वोट पहुंचने में देरी हो जाती थी। अब इसमें सुधार करते हुए सर्विस वोटर्स तक बैलेट पेपर इलेक्ट्रोनिक माध्यम से तुरंत भिजवाए जाएंगे। इतना ही नहीं कर्मचारियों द्वारा अपना वोट सामान्य डाक से नहीं बल्कि स्पीड पोस्ट से भेजने की व्यवस्था की गई है जिसका खर्च भी चुनाव आयोग द्वारा वहन किया जाएगा।

रंजन ने कहा कि चुनाव आयोग के इस फैसले से लोकतंत्र में सबकी भागीदारी सुनिश्चित होगी तथा निष्पक्ष व पारदर्शी चुनाव की दिशा में यह एक बड़ा कदम साबित होगा। उन्होंने कहा कि सर्विस वोटर्स को मतदान के संबंध में जागरूक व प्रशिक्षित भी किया जाएगा ताकि मतदान प्रफ्यि के संबंध में उनकी भ्रांतियों को दूर किया जा सके तथा वे अपने मताधिकार का सही तरीके से व बढ़-चढक़र प्रयोग कर सकें। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी को मतदान की रिपोर्टिंग करने के संबंध में भी प्रशिक्षित किया जाए ताकि वह मतदान प्रतिशत के संबंध में नियंत्रण कक्ष को सही रिपोर्ट दे सके।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement