Chief Electoral Officer review meeting review meeting-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 17, 2022 4:59 pm
Location
Advertisement

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने ली चुनाव तैयारियों की समीक्षा बैठक

khaskhabar.com : बुधवार, 31 अक्टूबर 2018 7:45 PM (IST)
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने ली चुनाव तैयारियों की समीक्षा बैठक
करौली । प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनन्द कुमार ने कहा कि विधानसभा आमचुनाव त्रुटी रहित, निष्पक्ष एवं पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए अधिकारी टीम भावना के साथ कार्य करें। उन्होंने आम मतदाताओं को भयमुक्त मतदान करने के लिए आवश्यक कदम उठाने और मतदान केन्द्रों पर मूलभूत सुविधाएं समय पर तैयार कराने के निर्देश दिये।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी बुधवार को करौली के कलक्ट्रेट सभागार में विधानसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा बैठक में उपस्थित संभाग के अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान दिये गये दायित्व समय पर पूरे किये जायें। चुनाव आयोग द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुरूप सभी तैयारियां निर्धारित समय के साथ पूरी की जाए। उन्होने कहा कि इस बार चुनाव आयोग की थीम प्रत्येक दिव्यांग को मताधिकार के लिए जागरूक कर उन्हें मतदान केन्द्र तक लाने की है। इसके लिए सभी निर्वाचन अधिकारी मतदान केन्द्रों पर आवश्यक सुविधाएं समय पर तैयार करते हुए दिव्यांगजनों को सूचीबद्ध करें।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर हेल्प डेस्क बनवाकर एनसीसी, स्काउट एवं पुलिस कैडेट के विद्यार्थियों को चिन्हित कर मतदाताओं की सहायता के लिए उपलब्ध रखना सुनिष्चित करें। उन्होंने मतदान केन्द्रों पर आम मतदाताओं के लिए छाया-पानी एवं बैठक की व्यवस्था करने, मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त रोशनी के लिए अस्थाई विद्युत कनेक्षन कराने, वेबकास्टिंग कराये जाने वाले मतदान केन्द्रों को चिन्हित करने के निर्देश दिये।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि आदर्श आचार संहिता की पालना में किसी तरह की ढिलाई नहीं बरती जाये। आवश्यक स्थानों पर चैकपोस्ट लगाकर चुनाव आयोग के निर्देषों की पालना के लिए एसएसटी, वीएसटी को भी लगातार सक्रिय रखा जाये। उन्होंने कहा कि संवेदनषील, अतिसंवेदनषील एवं भयग्रस्त मतदान केन्द्रों को चिन्हित कर वहां पर अतिरिक्त जाब्ता लगाने का प्लान तैयार करने एवं फ्लेगमार्च के साथ चौपाल आयोजित कर आम मतदाताओं को भयमुक्त होकर मतदान करने की बात कही। उन्होंने प्रत्येक मतदान केन्द्रवार संचार का प्लान बनाकर सोषल मीडिया के माध्यम से आम मतदाताओं तक पहुंच बनाने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को चिन्हित कर पाबंद करने की कार्यवाही के साथ संबंधित क्षेत्रों में समय-समय पर फ्लैगमार्च भी करें।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगाराम ने कहा कि स्वीप गतिविधियों को प्रत्येक विधानसभावार मतदान केन्द्रों तक पहुंचाने के साथ अधिक से अधिक लोगों को ईवीएम व वीवीपेट की जानकारी दें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मतदाता अपने मताधिकार का स्वतंत्रतापूर्वक उपयोग करें, इसके लिए घर-घर तक मतदान का संदेश पहुंचाया जाये। स्वयंसेवी संस्थाओं, सामाजिक संगठनों एवं विभिन्न सरकारी एजेंसियों की भी इसमें सहायता ले। उन्होंने वीवीपेट एवं ईवीएम से मॉकपोल के लिए प्रत्येक बूथ तक पहुंच बनाने के निर्देश दिये। सी-विजिल मोबाईल एप से समस्याओं के निस्तारण की सफल कहानियां भी प्रचारित करने का सुझाव दिया।

संभागीय आयुक्त भरतपुर सुबीर कुमार, महानिरीक्षक पुलिस मालिनी अग्रवाल, महानिरीक्षक कानून व्यवस्था हवासिंह घुमरिया, जिला निर्वाचन अधिकारी भरतपुर सन्देश नायक, जिला निर्वाचन अधिकारी अभिमन्यु कुमार, जिला निर्वाचन अधिकारी सवाईमाधोपुर पी.सी. पवन, जिला पुलिस अधीक्षक करौली अजय सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक सवाईमाधोपुर समीर सिंह, उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेश कुमार उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement