BJP President Amit Shah at BJP National Convention at Ramlila Maidan in Delhi-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 16, 2019 11:04 pm
Location
Advertisement

BJP राष्ट्रीय परिषद : शाह बोले-संवैधानिक रूप से राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध

khaskhabar.com : शुक्रवार, 11 जनवरी 2019 5:44 PM (IST)
BJP राष्ट्रीय परिषद : शाह बोले-संवैधानिक रूप से राम मंदिर बनाने को लेकर कटिबद्ध
नई दिल्ली। दिल्ली के रामलीला मैदान में बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की महत्वपूर्ण बैठक शुक्रवार से शुरू हो गई है। इस बैठक में पार्टी मिशन 2019 का आगाज़ करेगी और देशभर से जुटे पार्टी कार्यकर्ताओं को जीत की रणनीति भी सिखायेगी। दो दिन तक चलने वाली परिषद की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झंडा फहराकर की। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि संविधान के संसोधनों में 124वां संशोधन बहुत महत्वपूर्ण है।

शाह ने कहा कि अरुण जेटली की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल की बैठक में निर्णय लिया गया कि 40 लाख रुपये तक सालाना टर्नओवर वाले छोटे व्यापारियों के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी नहीं।

अमित शाह ने का कि 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है। दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है। 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोडऩे वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है।

अमित शाह ने कहा, पूरी दुनिया में मोदी जैसा नेता नहीं है। 2019 में फिर से एनडीए की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि गठबंधन में न नीयत और न ही कोई नीति है।

शाह ने कहा कि जवानों को वन रैंक, वन पेंशन देकर नरेंद्र मोदी सरकार ने उन्हें सम्मान देने का काम ने किया है। हमारी सरकार ने गोली का जवाब गोले से दिया है। मोदी सरकार ने देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने का काम किया है।

अमित शाह ने कहा कि 1.5 करोड़ तक टर्नऑवर वाले कंपोजिशन प्लान स्वीकार करने वाले व्यापारियों को सिर्फ 1प्रतिशत टैक्स देना होगा। ये करोड़ों छोटे व्यवसायियों और लघु उद्योगों के लिए ये बड़ा फैसला है। यह अधिवेशन भारतीय जनता पार्टी के देशभर में फैले कार्यकर्ताओं के लिए संकल्प करने का अधिवेशन है। जिस भारत की कल्पना विवेकानंद जी ने की थी उस भारत को हम मोदी जी के नेतृत्व में बनाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।


शाह ने कहा कि अटल जी जनसंघ के समय से ही देश की राजनीति के ध्रुव तारे की तरह चमके थे, बीजेपी के संस्थापक अध्यक्ष थे. देश के हर कौने में बीजेपी को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया है, ऐसा संघर्ष शायद ही हुआ हो।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement