BJP is raising 5 thousand crore rupees to fight Corona-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 1, 2020 8:51 pm
Location
Advertisement

कोरोनावायरस संकट :कोरोना से लड़ने के लिए 5 हजार करोड़ रुपये जुटाने में लगी भाजपा

khaskhabar.com : शनिवार, 04 अप्रैल 2020 6:00 PM (IST)
कोरोनावायरस संकट :कोरोना से लड़ने के लिए 5 हजार करोड़ रुपये जुटाने में लगी भाजपा
नई दिल्ली, 4 अप्रैल (आईएएनएस)| कोरोना के कहर से देश को बचाने के लिए भारतीय जनता पार्टी अपने मजबूत संगठन के ढांचे का भरपूर इस्तेमाल करने में जुटी है। संकट की इस घड़ी में करीब पांच हजार करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य लेकर भाजपा चल रही है। सभी प्रदेश अध्यक्षों को पार्टी ने इसके लिए मिशन मोड में काम करने को कहा है। पार्टी के सात राष्ट्रीय महासचिव हर दिन अपने प्रभार वाले राज्यों से पीएम केयर में भेजी मदद की समीक्षा कर जरूरी दिशा-निर्देश दे रहे।

पांच हजार करोड़ रुपये की व्यवस्था के लिए राष्ट्रीय से लेकर मंडर स्तर तक काम चल रहा है। पार्टी के विश्वसनीय सूत्रों ने यह जानकारी आईएएनएस को दी है। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पूरे अभियान की खुद मॉनीटरिंग कर रहे हैं। हर रोज वीडियो कांफ्रेंसिंग से वह सभी राज्यों के संगठन पदाधिकारियों से रूबरू होकर अभियान की समीक्षा कर रहे। कई दफा नड्डा कार्यकर्ताओं का भी फोन घनघनाकर उनका हौसला बढ़ाते हैं।

भाजपा का मानना है कि कोरोना के खिलाफ चल रही यह मुहिम उसके लिए एक बड़ा मौका है, जब वह 18 करोड़ सदस्यों के दम पर सबसे बड़ा राहत अभियान चलाकर दुनिया के सामने नजीर पेश कर सकती है। सदस्यों के लिहाज से दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी पिछले 26 मार्च से एक सामाजिक संगठन के रूप में तब्दील हो गई है।

कैसे जुटेंगे 5 हजार करोड़?

भाजपा ने करीब पांच हजार करोड़ रुपये जुटाने के लिए नेटवर्किं ग का सहारा लिया है। प्रधानमंत्री मोदी, अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह की अपील पर अब तक सिर्फ सांसदों ने ही करीब चार सौ करोड़ रुपये की व्यवस्था कर दी है। पार्टी के 303 लोकसभा और 83 राज्यसभा सांसदों ने सांसद निधि से एक-एक करोड़ जहां अपने संसदीय क्षेत्र के लिए दिए हैं वहीं अपनी एक से दो महीने तक की सैलरी पीएम केयर में दान की है। भाजपा की अपील पर सहयोगी दलों के सांसद भी दान कर रहे हैं।

इसी तरह देश भर में भाजपा के विधायक और विधान परिषद सदस्यों की संख्या भी करीब 1400 है। पार्टी नेतृत्व की अपील पर विधायक भी निधि से लेकर महीने की सेलरी दान कर रहे हैं। विधायक भी जहां 20 से 25 लाख रुपये की निधि अपने क्षेत्र के लिए दे रहे हैं, तो एक महीने से लेकर दो महीने तक का वेतन भी केंद्रीय कोष(पीएम केयर) में दान कर रहे हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया कि विधायकों के जरिए पार्टी करीब आठ सौ करोड़ रुपये की व्यवस्था करने में जुटी है।

भाजपा के एक राष्ट्रीय पदाधिकारी ने आईएएनएस से कहा, "जहां तक कुछ लोग सवाल उठाते हैं कि निधि तो सरकारी होती है, उसे देने का श्रेय किसी सांसद-विधायक या पार्टी को क्यों मिलना चाहिए? मैं बताना चाहता हूं कि निधि का पैसा भले सरकारी है मगर खर्च करने का अधिकार तो संबंधित माननीय को ही होता है। ऐसे में अगर हर सांसद एक करोड़ या उससे भी ज्यादा दे रहा है तो इसके पीछे प्रेरणा तो पार्टी ही दे रही है न। फिर पार्टी को श्रेय क्यों नहीं मिलना चाहिए। निधि के अलावा वेतन व अन्य तरह से सांसद-विधायक आर्थिक मदद दे रहे हैं। "

पार्टी नेतृत्व ने अपने 18 करोड़ सदस्यों से सौ-सौ रुपये, प्रधानमंत्री नागरिक सहायता एवं आपात स्थिति राहत कोष(पीएम केयर) में जमा करने की अपील की है। इस प्रकार पार्टी का मानना है कि एकमुश्त 18 सौ करोड़ रुपये जमा हो जाएंगे। पार्टी ने हर मंडल प्रभारी को सभी कार्यकर्ताओं से पैसा जमा कराने का टारगेट सौंप रखा है।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने आईएएनएस से कहा, " सौ रुपये तो पार्टी के आम सदस्यों के लिए है। जो सक्रिय कार्यकर्ता हैं वे अपने क्षमता के अनुसार हजार से लेकर दस हजार और लाख- दो लाख तक दे रहे हैं।" पार्टी सूत्रों ने बताया कि सभी राज्यों के संगठन पदाधिकारियों से कहा गया है कि वे क्षेत्र के बड़े व्याापारियों से संपर्क कर भी पीएम केयर में दान करने के लिए प्रेरित करें।

5 करोड़ लोगों को खाना

केंद्रीय कोष में एक तरफ भाजपा दान जुटाने में जुटी है तो दूसरी तरफ एक करोड़ कार्यकर्ताओं को सामुदायिक भोजन अभियान से भी जोड़ा गया है। हर कार्यकर्ता को पांच जरूरतमंदों को भोजन देने की जिम्मेदारी है। पार्टी का दावा है कि देश भर में चल रहे कम्युनिटी किचेन सर्विस से हर दिन पांच करोड़ गरीबों को खाना खिलाया जा रहा है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा हर शाम को वीडियो कांफ्रेंसिंग कर राज्यों के संगठन पदाधिकारियों से इस अभियान की रिपोर्ट लेते हैं। शुक्रवार को अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी महासचिव भूपेंद्र यादव के साथ उत्तर प्रदेश में चल रहे अभियान की वीडियो कांफ्रेंसिंग से समीक्षा की थी।

भाजपा अध्यक्ष नड्डा पांच करोड़ गरीबों को खाना खिलाने को पार्टी का अब तक का सबसे बड़ा अभियान मानते हैं। नड्डा ने हाल में अपने एक एक बयान में कहा था, "भाजपा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान को जमीन पर उतारने के लिए कृतसंकल्पित है। पार्टी कार्यकर्ता संकट की इस घड़ी में किसी भी व्यक्ति को भूखा नहीं सोने देंगे। एक करोड़ कार्यकर्ता पांच करोड़ जरूरमंदों तक हर दिन भोजन पहुंचाने में जुटे हैं। पार्टी कार्यकर्ता स्थानीय प्रशासन से सहयोग करते हुए अधिक से अधिक जरूरतमंद लोगों तक पहुँच रहे हैं, हम निश्चित रूप से कोरोना पर जीत हासिल करेंगे। वे कार्यकर्ता बधाई के पात्र हैं जो पीएम केयर में दान कर रहे हैं।"

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement