Bihar : flood claims 24 lives, CM Nitish Kumar reviews situation-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 24, 2019 10:09 pm
Location
Advertisement

बिहार : गांव से शहर तक बाढ़ का कहर, 24 की मौत, मुख्यमंत्री ने किया हवाई सर्वेक्षण

khaskhabar.com : मंगलवार, 16 जुलाई 2019 09:25 AM (IST)
बिहार : गांव से शहर तक बाढ़ का कहर, 24 की मौत, मुख्यमंत्री ने किया हवाई सर्वेक्षण
पटना। बिहार (Bihar) के उत्तरी हिस्सों के लगभग सभी जिलों में गांव से शहर तक बाढ़ (Flood) का पानी कहर ढा रहा है। लोग अपने घर छोडक़र सुरक्षित स्थानों पर शरण लिए हुए हैं। बाढ़ से राज्य में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने सोमवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। बिहार के जिन इलाकों में बाढ़ का सबसे ज्यादा असर है, उनमें अररिया, किशनगंज, सुपौल, दरभंगा, शिवहर, सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया और सहरसा जिला शामिल हैं।

आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य के 77 प्रखंडों की 546 पंचायतों के 25 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ से अब तक 24 लोगों की मौत हो गई है। मुख्यमंत्री ने लगातार दूसरे दिन बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। मुख्यमंत्री ने सोमवार को अररिया जिले के फारबिसगंज, सिकटी, पलासी, जोकीहाट, किशनगंज जिले के ठाकुरगंज, कोचाधामन, टेढ़ागाछ और कटिहार जिले के बलरामपुर में बाढ़ प्रभावित इलाकों का विस्तृत हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लिया।

इसके बाद पूर्णिया के चूनापुर हवाईअड्डे पर पूर्णिया, अररिया, कटिहार एवं किशनगंज जिले के जिलाधिकारियों के साथ बैठक कर बाढ़ एवं बचाव व राहत कार्य के बारे में विस्तृत समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित सभी क्षेत्रों में राहत एवं बचाव कार्य तेज करने का निर्देश दिया है।

ग्रामीण कार्य विभाग एवं पथ निर्माण विभाग के अधिकरियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लेने और संपर्क से कटे हुए स्थानों की संपर्कता तुरंत बहाल करने का निर्देश दिया है। हवाई सर्वेक्षण के दौरान मुख्य सचिव दीपक कुमार, जल संसाधन विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार, आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत और मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार भी साथ थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement