Bharat Bhushan Ashu said 163.49 Lakh MT of Paddy Purchased during Kharif Marketing Season 2019-20-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 13, 2019 1:38 pm
Location
Advertisement

खरीफ मार्केटिंग सीजन 2019-20 के दौरान 163.49 लाख मीट्रिक टन धान की हुई खरीद-आशू

khaskhabar.com : सोमवार, 02 दिसम्बर 2019 5:40 PM (IST)
खरीफ मार्केटिंग सीजन 2019-20 के दौरान 163.49 लाख मीट्रिक टन धान की हुई खरीद-आशू
चंडीगढ़। खऱीफ़ मार्केटिंग सीजन 2019 -20 के दौरान राज्य भर की मंडियों में 163.49 लाख मीट्रिक टन धान की आमद हुई जिसकी खरीद राज्य की खरीद एजेंसियों द्वारा निर्धारित समय के अंदर सफलतापूर्वक की गई। यह जानकारी खाद्य एवं सिविल सप्लाई मंत्री भारत भूषण आशू ने दी। राज्य में निर्विघ्न खरीद प्रक्रिया के लिए सभी भागीदारों को बधाई देते हुए मंत्री ने कहा कि मंडियों में फसलों की औसतन आमद सम्बन्धी अनुमान लगाकर खाद्य एवं सिविल सप्लाई विभाग ने पहले ही ज़रुरी प्रबंध कर लिए थे।
इसके अलावा, चुने हुए नुमायंदों (एम.एल.ए.) और खाद्य एवं सिविल सप्लाई विभाग के अधिकारियों ने निजी तौर पर खरीद, लिफ्टिंग और भुगतान समेत सभी खरीद कार्यों की निगरानी की जिससे मंडी स्तर की मुश्किलों का तत्काल निपटारा संभव हुआ और खरीद प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की रुकावट नहीं आई।
उन्होंने बताया कि राज्य के विभिन्न खरीद केन्द्रों से हुई कुल खरीद में से सरकारी एजेंसियों ने 16227800.22 मीट्रिक टन धान की खरीद की जबकि मिल मालिकों द्वारा 121675 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है। राज्य खरीद एजेंसियों में से पनग्रेन ने 6738908.55 मीट्रिक टन, मार्कफैड ने 4170380.68 टन और पनसप ने 3308481.28 टन धान की खरीद की जबकि पंजाब स्टेट वेयरहाऊसिंग कार्पोरेशन ने 1786642.99 मीट्रिक टन और एफ.सी.आई. ने 223386.75 मीट्रिक टन धान की खरीद की है।
इसके अलावा, 72 घंटों के लिफ्टिंग नियम के अनुसार 27 नवंबर तक 162.19 लाख मीट्रिक टन धान की लिफ्टिंग की गई और 1125238 आढ़तियों /किसानों को उनके बैंक खातों में 29328.82 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया। जि़क्रयोग्य है कि केंद्र सरकार के निर्देशों के अनुसार, खाद्य और सिविल सप्लाई विभाग ने किसानों को ऑनलाइन भुगतान के लिए सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (पी.एफ.एम.एस.) शुरू की और इस सीजन के दौरान ई-पेमेंट के अंतर्गत 2557 किसानों को कवर किया गया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement