Before challenging, AAP must build a decent organisation in Himachal: BJP leader-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 28, 2022 9:06 pm
Location
Advertisement

चुनौती देने से पहले आप को हिमाचल में एक अच्छा संगठन बनाना चाहिए: भाजपा नेता

khaskhabar.com : शुक्रवार, 15 अप्रैल 2022 10:12 PM (IST)
चुनौती देने से पहले आप को हिमाचल में एक अच्छा संगठन बनाना चाहिए: भाजपा नेता
rनई दिल्ली/शिमला। भाजपा के हिमाचल प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने शुक्रवार को कहा कि किसी को भी चुनौती देने से पहले आम आदमी पार्टी (आप) को राज्य में एक अच्छा संगठन बनाना चाहिए।
आईएएनएस के साथ एक साक्षात्कार में, खन्ना ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पंजाब के अधिकारियों का मिलना 'न केवल एक असंवैधानिक कार्य है, बल्कि यह भी दर्शाता है कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान कितने अक्षम हैं'।
खन्ना ने यह भी कहा कि राज्य में लगातार दूसरी बार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनेगी।
उन्होंने कहा, "बीजेपी की डबल इंजन सरकार के तहत राज्य ने पिछले पांच वर्षों में सर्वांगीण विकास देखा है और लोग इसे जारी रखने के लिए लगातार दूसरी बार भाजपा सरकार का चुनाव करेंगे।"
पेश हैं साक्षात्कार के कुछ अंश:
प्रश्न: क्या आप वर्ष के अंत में होने वाले हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों में आप को भाजपा के लिए चुनौती के रूप में देखते हैं?
खन्ना: हिमाचल प्रदेश में आप की कोई मौजूदगी और हिस्सेदारी नहीं है। उनका कोई सांगठनिक ढांचा नहीं है। आप ने एक संगठन बनाने की कोशिश की लेकिन कुछ ही समय में यह ढह गया। किसी को चुनौती देने से पहले आप को हिमाचल प्रदेश में एक अच्छा संगठन बनाना चाहिए। आप की जमीनी मौजूदगी नहीं है, जबकि हिमाचल प्रदेश के हर मतदान केंद्र पर भाजपे के मजबूत कार्यकर्ता मौजूद हैं। हमें किसी से कोई चुनौती नहीं है और आप दौड़ में नहीं है। हमारी जनहितैषी नीति के लिए भाजपा राज्य में अगली सरकार बनाएगी।
प्रश्न: आप दावा कर रही है कि भाजपा के कई नाखुश नेता उनके साथ शामिल होंगे। इस पर आपका क्या कहना है?
खन्ना: हमारा कोई नेता आप में शामिल नहीं हो रहा है। हाल ही में जो हुआ, वह सबने देखा है। आप का पूरा हिमाचल प्रदेश नेतृत्व पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हो गया है। क्या वे लोगों को पूरे हिमाचल प्रदेश के आप के नेताओं के पार्टी छोड़ने के कारणों के बारे में बताएंगे? मैं आपको बताता हूं.. उन्होंने गलत नीतियों और पार्टी के विफल नेतृत्व के कारण आप छोड़ दी।
प्रश्न: दिल्ली में आप नेता दावा कर रहे हैं कि हार के डर से भाजपा सरकार आप के मुफ्त उपहार मॉडल की नकल कर रही है।
खन्ना: उन्हें यह बताना होगा कि हम दिल्ली सरकार की किन योजनाओं का पालन कर रहे हैं। हिमाचल प्रदेश में दिल्ली सरकार की एक भी योजना का पालन नहीं किया जाता है। हम एक जनहितैषी सरकार हैं। केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार हिमाचल प्रदेश के विकास और लोगों के कल्याण के लिए लगातार काम कर रही है।
प्रश्न: हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा किन मुद्दों पर वोट मांगेगी?
खन्ना: हिमाचल प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव विकास, हमारे काम और जनकल्याण नीति के मुद्दे पर लड़ा जाएगा। हमारी पार्टी और सरकार राष्ट्र, राज्य और जनता के हित के लिए काम कर रही है। हम अंत्योदय के पंडित दीन दयाल उपाध्याय के सपने का पालन कर रहे हैं। भाजपा की डबल इंजन सरकार के तहत राज्य ने पिछले पांच वर्षों में चौतरफा विकास देखा है और लोग इसे जारी रखने के लिए लगातार दूसरी बार भाजपा सरकार का चुनाव करेंगे।
प्रश्न: दिल्ली के मुख्यमंत्री के साथ पंजाब के अधिकारियों की हाल की बैठक के बारे में आप क्या कहेंगे?
खन्ना: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से यह असंवैधानिक कृत्य है। क्या संविधान में मुख्यमंत्री को दूसरे राज्य के अधिकारियों को निर्देश देने की अनुमति है? क्या वे नई प्रथा शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि पंजाब के मुख्यमंत्री भी बैठक में मौजूद नहीं थे। उन्होंने (दिल्ली में आप नेतृत्व) पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को महत्व नहीं दिया। क्या वे कह रहे हैं कि पंजाब के मुख्यमंत्री राज्य के मामलों को संभालने में सक्षम नहीं हैं?
प्रश्न: मान ने कहा कि अधिकारी प्रशिक्षण के लिए गए थे।
खन्ना: अधिकारियों को प्रशिक्षण और कार्यशालाओं के लिए भेजा जाता है न कि किसी दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री से मिलने और निर्देश लेने के लिए। क्या पंजाब के मुख्यमंत्री मानते हैं कि हमारे अधिकारी, जो पिछले कई सालों से राज्य चला रहे हैं, अक्षम हैं? इससे पता चलता है कि वह (मान) मानते हैं कि हमारे अधिकारी सक्षम हैं और उन्हें दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री से प्रशिक्षण की जरूरत है।
प्रश्न: क्या आप कह रहे हैं कि यह पंजाब के मुख्यमंत्री की अक्षमता को दर्शाता है?
खन्ना: यह स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि वह अक्षम हैं और उन्हें राज्य को चलाने के लिए किसी अन्य मुख्यमंत्री की मदद की जरूरत है। दिलचस्प बात यह है कि वह बैठक से गायब थे।
--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement