Beedi-tobacco from nurses seeking half-naked, vulgar songs in hospital, investigation begins-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 10, 2021 4:35 am
Location
Advertisement

तबलीगियों का तांडव : अस्पताल में अधनंगे, अश्लील गाने गाकर मांगते नर्सों से बीड़ी-तंबाकू, जांच शुरू

khaskhabar.com : शुक्रवार, 03 अप्रैल 2020 08:29 AM (IST)
तबलीगियों का तांडव : अस्पताल में अधनंगे, अश्लील गाने गाकर मांगते नर्सों से बीड़ी-तंबाकू, जांच शुरू
गाजियाबाद। चारों ओर से कानूनी तौर पर घिर जाने के बाद भी देश भर में कोरोना को लेकर फैल जाने के आरोपी संदिग्ध तगलीबी यात्री बेजा हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। बुधवार को जब इन्हें दिल्ली में पुलिस और सरकार ने घेरा तो, वहां बसों में बैठते वक्त इनमें से कई ने पुलिस-सरकारी कर्मचारियों के ऊपर थूका।

अब इन्हीं में से कुछ खुराफाती किस्म के संदिग्ध और गाजियाबाद के अस्पताल में दाखिल तगलीबी खुराफाती हरकतों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहे हैं। यहां अस्पताल स्टाफ के साथ इनके ऊल-जलूल सलूक की लिखित में शिकायतें सामने आयी हैं। फिलहाल जांच गाजियाबाद के नगर पुलिस अधीक्षक और एडीएम को संयुक्त रूप से दे दी गई है।

गाजियाबाद स्थित एमएमजी (सरकारी अस्पताल) के कुछ स्टाफ ने 1 अप्रैल यानी बुधवार को गाजियाबाद के मुख्य चिकित्साधीक्षक को अस्पताल स्टाफ की ओर से शिकायती पत्र लिखा था। आईएएनएस के पास मौजूद पत्र के मुताबिक, "अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कई जमाती मरीज स्टाफ और नसिर्ंग स्टाफ के साथ बत्तीमीज से पेश आ रहे है।"

इनमें कुछ जमाती और संदिग्ध कोरोना संक्रमित ऐसे भी हैं जो, नसिर्ंग स्टाफ के सामने अधनंगी हालत में ही घूमना शुरू कर देते हैं। इतना ही नहीं वार्ड में मौजूद नसिर्ंग स्टाफ के साथ हदें पार करते हुए अश्लील गाने तक गाने से बाज नहीं आ रहे हैं।

बात महिला स्टाफ तक ही सीमित नहीं रही। इन जमातियों (दिल्ली की निजामुद्दीन बस्ती स्थित मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय से लौटकर कोरोना संदिग्ध हुए) ने बेहूदगी की तमाम हदें तब पार कर दीं जब, वार्ड में मौजूद स्टाफ से यह लोग मादक पदार्थों मसलन तम्बाकू, बीड़ी सिगरेट तक की मांग करने लगे। इनकी हरकतों से चंद घंटों में ही आजिज आये स्टाफ ने, मामला जिला चिकित्सालय प्रमुख के संज्ञान में दिया।

मामले की गंभीरता को समझते हुए अगले ही दिन (शिकायत मिलने के) यानि गुरुवार 2 अप्रैल 2020 को मुख्य चिकित्सा अधिकारी, एमएमजी अस्पताल ने जिलाधिकारी, एसएसपी गाजियाबाद, जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी और थाना घंटाघर कोतवाली पुलिस के पास लिखित में भेज दिया।

इस बाबत आईएएनएस ने गुरुवार रात गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी से बात की। एसएसपी के मुताबिक, "शिकायत मिली थी, आरोप गंभीर हैं, कोरोना जैसी महामारी हो या फिर कोई और वक्त। किसी के साथ भी कोई इस तरह की बत्तमीजी करेगा तो बर्दाश्त नहीं करुंगा। फिलहाल मामले की जांच एडीएम शैलेंद्र सिंह और नगर पुलिस अधीक्षक मनीष मिश्रा संयुक्त रुप से कर रहे हैं। जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों के खिलाफ सख्त कानूनी कदम उठाये जायेंगे।" (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement