At the seminar, the techniques known to prevent cancer-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 16, 2022 3:56 pm
Location
Advertisement

सेमीनार में जानी कैंसर से बचाव के तकनीक

khaskhabar.com : रविवार, 16 अक्टूबर 2016 3:58 PM (IST)
सेमीनार में जानी कैंसर से बचाव के तकनीक
फरीदकोट। डिप्टी कमिश्नर स. मालविंदर सिंह जग्गी ने कहा कि चिकित्सकों को मरीजों प्रति सहानुभूति वाला रवैया अपनाने के साथ-साथ मनोवैज्ञानिक ढंग से इलाज करना चाहिए ।
मरीज़ को यह अहसास करवाना डाक्टरी पेशे का फर्ज बनता है कि बीमारी नियंत्रण में है। शीघ्र ही ठीक हो जाएगी । स.जग्गी आज यहाँ बाबा फरीद यूनिवर्सिटी आफ हैलथ साइंसेज की सीनेट हाल में कैंसर विभाग, गुरू गोबिंद सिंह मैडीकल कालज और अस्पताल की ओर से नार्थ जोन एसोसिएशन आफ़ रेडीएशन एंकोलोजिस्ट की दो दिन की सालाना कान्फ्रेंस के मौक़े संबोधन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ऐसे सेमीनार करवाने से जहाँ नयी तकनीक और विचार चर्चा होती है वही कैंसर जैसी बीमारी को कंट्रोल करना होता है। इसके कारण और समाधान ढूँढ़ने में मदद मिलती है जिससे मरीजो को अधिक से अधिक फायदा होता है।इस मौक़े डा. ए. के. आनंद मैक्स साकेत दिल्ली, डा. एस हुकू, डा. एस सी पांडा, डा. एच पी यादव इंस्टीट्यूट आफ लीवर दिल्ली, डा. शुष्मिता गुशाल, पीजीआई चंडीगड़, डा.आंकर पांडा समेत चार दर्जन से अधिक कैंसर विशेषज्ञों इस बीमारी पर विचार सांझा किये गये।

चिकित्सकों ने कैंसर की बीमारी के दिन बा दिन फैलने का कारण और उस की रोकथाम और इलाज का तकनीकां ऊपर चर्चा की । कैंसर विभाग के मुखी और आर्गनाइजिंग चेयरमेन डा. परमजीत सिंह बेनीपाल ने बताया कि बाबा फरीद यूनिवर्सिटी आफ हैलथ साइसेंज वाइस चांसलर डा.राज बहादुर का रहनुमाई में करवाये। इसमें छह राज्य जिस में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल, जम्मू और कश्मीर का 200 का क़रीब कैंसर चिकित्सकों ने भाग लिया ।उन्होंने बताया कि गुरु गोबिंद सिंह मेडिकल कालेज में उच्च स्तर की कैंसर के इलाज वाली मशीनें लगाईं गयी हैं, जिससे 200 के क़रीब मरीजों का इलाज हर रोज़ किया जाता है।इस मौक़े रजिस्ट्रार डा.एसपी सिंह और आर्गनाइजिंग सचिव डा. प्रदीप गर्ग ने 90 के क़रीब अस्पतालों से आये कैंसर चिकित्सकों का स्वागत किया।

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement