Are You Aware Of Your Powers, Supreme Court To Election Commission-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 18, 2019 1:20 pm
Location
Advertisement

SC चुनाव अयोग पर सख्त, धार्मिक आधार पर वोट मांगने वालों पर क्या किया

khaskhabar.com : सोमवार, 15 अप्रैल 2019 4:28 PM (IST)
SC चुनाव अयोग पर सख्त, धार्मिक आधार पर वोट मांगने वालों पर क्या किया
नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय ने चुनावी सभाओं में नेताओं के धार्मिक आधार पर वोटों को ध्रुवीकरण करने को लेकर चुनाव आयोग को निर्देश दिए । चुनाव आयोग की शक्तियों को लेकर भी सवाल उठाते हुए मंगलवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों आने के निर्देश भी दिए हैं।


सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के बेंच ने इस याचिका में उन दलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी, जिनके नेता धर्म और जाति के आधार पर चुनाव में वोट मांगते हैं।


सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि मायावती ने अपने धार्मिक आधार पर वोटिंग करने वाले बयान के नोटिस का जवाब नहीं दिया है। आपने क्या किया?' इस पर आयोग ने सुप्रीम कोर्ट को कहा कि हमारी शक्तियां सीमित हैं। सुप्रीम कोर्ट इस मामले में मंगलवार को सुनवाई करेगा। कोर्ट ने आयोग के अधिकारियों से भी कोर्ट में मौजूद रहने को कहा है।

आपको बताते जाए कि देवबंद में एसपी-बीएसपी-आरएलडी गठबंधन की एक रैली के दौरान मायावती ने कहा था कि मुस्लिम मतदाताओं को भावनाओं में बहकर अपने वोट को बंटने नहीं देना है। इस बयान को लेकर कई पार्टियों ने नाराजगी जाहिर की थी।

वहीं इस बयान के जवाब में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी 'बजरंग बली और अली' का जिक्र कर मायावती पर भी निशाना साधा था। इसके बाद चुनाव आयोग ने दोनों नेताओं को नोटिस भेजकर जवाब मांगा था। आयोग ने मायावती को चुनाव कोड के उल्लंघन का दोषी मानने के साथ ही सेक्शन 123 (3) के तहत जनप्रतिनिधि कानून 1951 के उल्लंघन का भी दोषी माना।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement