Anil Vij said Under the Mission Indradhanush, intensive vaccination campaign will be run all over the state -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 13, 2019 1:41 pm
Location
Advertisement

मिशन इन्द्रधनुष के तहत पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा सघन टीकाकरण अभियान-अनिल विज

khaskhabar.com : सोमवार, 02 दिसम्बर 2019 9:34 PM (IST)
मिशन इन्द्रधनुष के तहत पूरे प्रदेश में चलाया जाएगा सघन टीकाकरण अभियान-अनिल विज
चंडीगढ़। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि मिशन इन्द्रधनुष के तहत प्रदेश में 2 दिसम्बर से मार्च 2020 तक सघन टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा, जिसके अन्तर्गत राज्य के पलवल एवं नूहं दो जिलों में सभी गर्भवती महिलाओं तथा 5 वर्ष तक के बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा।
विज ने सोमवार को यहां अभियान के शुभारम्भ अवसर पर बोलते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा शुरू किए सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 के तहत आज 2 दिसंबर से मार्च 2020 तक प्रत्येक महीने के प्रत्येक पहले सोमवार से शुरू होकर सात कार्य दिवसों में कुल 4 राउंड आयोजित किए जाएंगे। इसके तहत नियमित टिकाकरण से छूटे हुए बच्चों को कवर किया जाएगा। इसमें टीकाकरण कवरेज को 90 प्रतिशत तक करने के लिए शहरी बस्तियों, कस्बों, गांवों में निर्धारित आयु वर्ग के सभी बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि विभाग ने पलवल और मेवात (नूंह) में 90 प्रतिशत से अधिक सम्पूर्ण टीकाकरण कवरेज प्राप्त करने का लक्ष्य रखा है अभी यह 65 प्रतिशत है। इसके तहत मेवात जिले में लगभग 23852 बच्चों तथा 5238 गर्भवती महिलाओं तथा पलवल जिले में लगभग 6190 बच्चों तथा 1150 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में जो शिशु मुत्यु दर 41 थी वही घटकर 30 रह गयी है तथा मातृ मृत्यु दर 127 से घटकर 98 हो गई है। मई 2019 में जारी सैंपल रजिस्ट्रेशन सिस्टम, (एसआरएस) 2017 में 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों की मृत्यु दर 37 से 2 अंक घटकर 35 हो गया है।
विज ने बताया कि मेवात में इस अभियान की सफलता के लिए आशा वर्कर्स के साथ-साथ कम्यूनिटी मोबलाइजेशन वालंटियर की ड्यूटी लगाई गई है। मेवात के दुर्गम क्षेत्रों तक पहुंचने के लिए वैक्सिनेटर के साथ 9 वाहन टीका एक्सप्रेस के तौर पर शुरू किए जा रहे हैं। इनमें नूंह जिले में 07 और हथीन में 02 वाहन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान माता-पिता / अभिभावकों, मोबाइल और अन्य तरीकों से टीकाकरण को अधिक सुलभ बनाया जाएगा। इस दौरान छुटे हुए बच्चों, ड्रॉपआउट, प्रतिरोधी परिवारों और क्षेत्रों तक पहुंचने के लिए कड़ी मेहनत की जाएगी। इसके लिए अंतर-विभागीय सहयोगी टीम की सहायता ली जाएगी।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हरियाणा में दिसंबर 2014 से मार्च 2019 तक मिशन इंद्रधनुष के 6 चरण पूरे कर लिए गए हैं। इसमें 9 महीने से 15 साल के आयु वर्ग के लगभग 74 लाख (99 प्रतिशत से अधिक) बच्चों को टीकाकरण किया गया है। राज्य ने 2014 के बाद रोटा वायरस वैक्सीन, पोलियोवायरस वैक्सीन, न्यूमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन की शुरुआत की। हरियाणा ऐसा पहला राज्य बना है, जिसने राज्य संसाधनों से सभी 22 जिलों में स्वर्ण जयंती योजना के तहत अटल टीकाकरण योजना के रूप में न्यूमोकोकल वैक्सीन शुरू की है। इसके अलावा वर्ष 2018 में हरियाणा में मीजल्स-रूबेला अभियान भी लॉन्च किया गया।
इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री ने राष्ट्रीय मुक्त दिवस पर एनएचएम की कॉफी टेबल बुकलेट का विमोचन किया। कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की मिशन निदेशक अमनीत पी कुमार, स्वास्थ्य महानिदेशक एस बी कम्बोज तथा विभाग के अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement