Akhilesh Yadavs anger erupted over police officers after slogans of Jai Shri Ram in Party rally at Kannauj-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Apr 2, 2020 9:28 am
Location
Advertisement

रैली में 'जय श्री राम' के नारे के बाद बोले अखिलेश यादव, कहा-मेरी जान को खतरा!

khaskhabar.com : शनिवार, 15 फ़रवरी 2020 11:03 PM (IST)
रैली में 'जय श्री राम' के नारे के बाद बोले अखिलेश यादव, कहा-मेरी जान को खतरा!
कन्नौज। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को पार्टी के महिला सम्मेलन में मौजूद थे, उसी दौरान भीड़ में घुसा एक युवक 'जयश्री राम' के नारे लगाने लगा। इस दौरान उसको कार्यकर्ताओं ने पीटकर पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद अखिलेश ने कहा कि दो दिन पहले उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी मिली थी। उन्होंने कहा कि हो सकता है, सपा के कार्यक्रम में घुसे युवक को भाजपा के किसी नेता ने भेजा हो। उन्हें धमकी मिलने के बाबत पूरी जानकारी वह लखनऊ में प्रेसवार्ता के दौरान देंगे।
उल्लेखनीय है कि कन्नौज में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का गुस्सा पुलिस अधिकारियों पर उस समय फूट पड़ा जब एक रैली को संबाेधित करने के दौरान भीड़ में से किसी ने 'जय श्री राम' के नारे लगा दिए। इस नारे के बाद अखिलेश यादव तिलमिला गए और मंच के पास मौजूद पुलिस अधिकारियों को फटकार लगा दी।
जानकारी के अनुसार शनिवार को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के कन्नौज में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान किसी भीड़ में से किसी ने 'जय श्री राम' का नारा लगा दिया। अखिलेश यादव इससे गुस्सा हो गए और मंच से नीचे खड़े पुलिस अधिकारियों को डांटने कहा कि आपके होते हुए ये कैसे हो सकता हैं। यहीं नहीं अखिलेश यादव ने पुलिस अधिकारी से पूछा की आपके ऊपर कितने स्टार लगे है, उन्होंने पुलिस अधिकारी से कहा कि आपके होते हुए यह नारे लगाने वाले यहां कैसे आ गए। उधर अधिकारी ने जब उन्हे समझाना चाहा तो अखिलेश यादव ने कहा कि आपकी सुरक्षा में ऐसे कैसे हुआ, क्या कर रहे हैं आप, जाइए अपने कप्तान साहब को लेकर आइए। उन्होंनेे आगे कहा कि अब हम यहां से तभी जाएंगे, जब आप नारा लगाने वाले का नाम, पता और पिता जी का नाम दे दोगे।'

उल्लेखनीय है कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ समाजवादी पार्टी की ओर से कन्नौज में आयोजित रैली को संबोधित करने के लिए वहां पहुंचे थे। जहां ये पूरा वाक्या हुआ।

उधर अखिलेश यादव के इस रवैये पर भाजपा नेताओं की रडार में आ गए हैं। कई नेताओं ने ट्वीट करते हुए अखिलेश के इस रवैये को लेकर हल्ला बोला है।
अखिलेश ने बताया जान को खतरा: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शनिवार को पार्टी के महिला सम्मेलन में मौजूद थे, उसी दौरान भीड़ में घुसा एक युवक 'जयश्री राम' के नारे लगाने लगा। इस दौरान उसको कार्यकर्ताओं ने पीटकर पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद अखिलेश ने कहा कि दो दिन पहले उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी मिली थी। उन्होंने कहा कि हो सकता है, सपा के कार्यक्रम में घुसे युवक को भाजपा के किसी नेता ने भेजा हो। उन्हें धमकी मिलने के बाबत पूरी जानकारी वह लखनऊ में प्रेसवार्ता के दौरान देंगे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement