Accelerate the works for which work orders have been placed - ACS PHED-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 29, 2022 12:46 am
Location
Advertisement

जिन कार्यों के वर्क ऑर्डर हो चुके हैं उनमें तेजी लाएं-एसीएस पीएचईडी

khaskhabar.com : बुधवार, 25 मई 2022 12:19 PM (IST)
जिन कार्यों के वर्क ऑर्डर हो चुके हैं उनमें तेजी लाएं-एसीएस पीएचईडी

जयपुर । अतिरिक्त मुख्य सचिव जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल डॉ. सुबोध अग्रवाल ने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत मार्च, 2024 तक सभी तय लक्ष्य पूरे करने हैं ऐसे में फील्ड में मौजूद अभियंताओं को तत्परता से कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि जिन कार्यों के वर्क ऑर्डर हो चुके हैं उनमें तेजी लाई जाए और कार्यों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति की मॉनिटरिंग जिलेवार की जाए। उन्होंने जिलों के प्रभारी मुख्य अभियंताओं एवं अतिरिक्त मुख्य अभियंताओं को जल जीवन मिशन के कार्यों की माइक्रो मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। साथ ही, अभी तक हुए वर्क ऑर्डर एवं पूरे हो चुके कार्यों की जिलेवार जानकारी ली।
डॉ. अग्रवाल मंगलवार को यहां जल भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से फील्ड अभियंताओं एवं मुख्यालय के अधिकारियों के साथ जल जीवन मिशन के कार्यों की प्रगति एवं सीएमआईएस पोर्टल पर प्राप्त आमजन की शिकायतों, जन प्रतिनिधियों द्वारा लिखे गए पत्रों तथा विधानसभा से संबंधित प्रकरणों के निस्तारण की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने जोधपुर में सर्वाधिक प्रकरण लंबित होने पर मुख्य अभियंता को पेडेंसी क्लियर करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि जिन जिलों में सीएमआईएस पोर्टल पर प्राप्त आमजन की शिकायतों की पेंडेंसी ज्यादा है वे जल्दी ही उनका निस्तारण करें। उन्होंने मंत्रियों तथा सांसदों-विधायकों द्वारा लिखे गए पत्रों का जवाब समय पर देने के भी निर्देश दिए।
कॉन्ट्रेक्टर्स से वार्ता कर पेयजल योजनाओं के कार्य समय पर पूरे करवाएं

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने जल जीवन मिशन के कार्यों में कम गति वाले जिलों के अभियंताओं को कार्य की गति बढ़ाने के निर्देश देए हुए सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बीएसआर रिवाइज कर दी है और नवीन बीएसआर के आधार पर आगे से जो टेण्डर होंगे उनमें प्रतिस्पर्धात्मक दरें आने की संभावना है। उन्होंने बीकानेर, भरतपुर एवं जयपुर रीजन के अभियंताओं से कहा कि वे ठेकेदारों से बात कर कार्य समय पर पूरे हों यह सुनिश्चित करें।
डॉ. अग्रवाल ने कहा कि जिन नलकूपों में बिजली कनेक्शन नहीं है उनमें कनेक्शन के लिए क्षेत्र के एसीई एवं सीई संबंधित डिस्कॉम्स के चेयरमैन से मिलकर बकाया बिजली कनेक्शन प्राथमिकता के आधार पर जल्द से जल्द जारी करवाकर उन्हें कमिशन कराएं। उन्होंने स्वीकृत हैण्पपंपों की प्रगति की भी जानकारी ली।

ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में टैंकर ट्रिप बढ़ाई

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि समर कंटींजेंसी में जिला कलक्टर की अनुशंसा के अनुसार 371 आकस्मिक कार्य स्वीकृत किए गए हैं जिनमें से 129 कार्य पूर्ण हो चुके हैं। शेष कार्य अगले 15 दिन में पूरे किए जाने का लक्ष्य है। अधिकारियों ने बताया कि 8 जिलों में मांग के अनुसार अतिरिक्त स्वीकृति जारी कर दी गई हैं। बैठक में बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में 29 जिलों के 8779 गांव-ढाणियों में 9536 टैंकर ट्रिप प्रतिदिन जल परिवहन किया जा रहा है। शहरी क्षेत्रों में 65 शहरों में 4700 टैंकर ट्रिप प्रतिदिन जल परिवहन किया जा रहा है। पिछले सप्ताह ग्रामीण क्षेत्रों में 1418 जबकि शहरी क्षेत्रों में 505 ट्रिप प्रतिदिन बढ़ी हैं।

अतिरिक्त मुख्य सचिव ने जयपुर, जोधपुर, झुंझुनू, पाली एवं अलवर जिलों में खोदे जा चुके नलकूपों में कमिशनिंग समय पर नहीं होने पर संबंधित अभियंताओं को सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने जोधपुर, पाली एवं सिरोही जिलों से जनता जल योजना के संबंध सूचना प्राप्त नहीं होने को गंभीरता से लिया एवं एक दिन में सूचना भेजने के निर्देश दिए।

बैठक में एमडी, जल जीवन मिशन प्रताप सिंह ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जल जीवन मिशन के तहत कार्यों की प्रगति के बारे में जानकारी दी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement