ACB takes action on transport department rajasthan inspectors,1.20 crores cash recovered-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Apr 7, 2020 10:39 pm
Location
Advertisement

Rajasthan:ACB ने किया परिवहन विभाग की मासिक बंधी वसूली का पर्दाफाश, एक करोड़ से ज्यादा की राशि जब्त

khaskhabar.com : सोमवार, 17 फ़रवरी 2020 10:00 AM (IST)
Rajasthan:ACB ने किया परिवहन विभाग की मासिक बंधी वसूली का पर्दाफाश, एक करोड़ से ज्यादा की राशि जब्त
जयपुर। एसीबी ने परिवहन विभाग में दलालों के माध्यम से वाहन मालिकों को डरा-धमकाकर मासिक बंधी वसूलने का पर्दाफाश किया है। इसमें परिवहन निरीक्षक को दलाल से चालीस हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया है। वहीं, दलाल के पास से अन्य अधिकारियों को बंधी देने के लिए रखे एक लाख बीस हजार रुपए नकद जब्त किए हैं। वहीं एसीबी ने दो डीटीओ, छह इंस्पेक्टर और सात दलालों के जयपुर सहित 17 जगहों पर चलाए जा रहे तलाशी अभियान में अब तक एक करोड़ 20 लाख रुपए के करीब नकदी, प्रोपर्टी के दस्तावेज और मध्यस्थ दलालों के पास से रिश्वत लेन-देन की सूचियां, हिसाब-किताब का ब्योरा तथा लेपटॉप, मोबाईल फोन पर लेनदेन एवं रिश्वत हिसाब-किताब के महत्वपूर्ण साक्ष्य बरामद किए गए हैं।

ब्यूरो की ओर से परिवहन विभाग से आठ अधिकारियों और नौ दलालों के निरुद्ध खिलाफ चलाए गए तलाशी अभियान में अब नकद, प्रोपर्टी के दस्तावेज और मध्यस्थ दलालों के पास से रिश्वत लेनदेन की सूचियों सहित अन्य महत्वपूर्ण साक्ष्य बरामद किए गए है। ब्यूरो के दलों का सर्च अभियान जारी है।


महानिदेशक (एसीबी) आलोक त्रिपाठी ने बताया कि परिवहन विभाग के अधिकारियों की ओर से दलालों के मार्फत वाहन मालिकों को डरा-धमकाकर मासिक बंधी के रूप में रिश्वत राशि प्राप्त करने की सूचना मिल रही थी। मुख्यालय स्तर पर गोपनीय सत्यापन करवाने पर सामने आया कि परिवहन विभाग के अधिकारियों की ओर से दलालों के जरिए वाणिज्यिक वाहनों तथा बसों को चलाए जाने के लिए वाहन संचालकों को धमकियां देकर प्रतिमाह रिश्वत राशि मासिक बंधी के रूप में नियमित रूप से प्राप्त की जा रही है। तनुश्री लॉजिस्टिक तथा अन्य मध्यस्थ दलालों की ओर से रविवार को फरवरी माह की मासिक बंधी के रूप में परिवहन अधिकारियों कोरिश्वत राशि का भुगतान किया जाने की सूचना मिली।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement