7 accused including satta king arrested in Alwar, 21.09 lakh cash, 16 mobiles, 8 laptops and diaries worth crores recovered -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 17, 2022 5:23 pm
Location
Advertisement

अलवर में सट्टा किंग सहित 7 अभियुक्त गिरफ्तार, 21.09 लाख नकद, 16 मोबाइल, 8 लैपटाॅप एवं करोड़ो के हिसाब की डायरी बरामद

khaskhabar.com : रविवार, 08 अगस्त 2021 11:00 AM (IST)
अलवर में सट्टा किंग सहित 7 अभियुक्त गिरफ्तार, 21.09 लाख नकद, 16 मोबाइल, 8 लैपटाॅप एवं करोड़ो के हिसाब की डायरी बरामद
अलवर । क्युआरटी व शिवाजी पार्क थाना पुलिस ने ऑनलाइन जुंआ-सट्टा खिलाने वाले हरियाणा के एक सट्टा किंग समेत 6 जनों को गिरफ्तार किया गया है। जिनके कब्जे से 21.09 लाख रुपये नकद, 16 मोबाईल, 8 लेपटॉप व एक प्रिंटर जब्त किया है। आरोपियों के पास मिली एक डायरी में पिछले 6 दिन का 2 करोड 83 लाख के हिसाब मिला है।
एसपी तेजस्वनी गौतम ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त दिनेश खटीक पुत्र रोशन लाल (30) एवं रवि खटीक पुत्र सोहन लाल (28) खटीक मौहल्ला थाना नगीना हरियाणा, सुरेश चौहान पुत्र जसवन्त सिंह राजपूत (36), इन्द्रजीत सिंह पुत्र भगवान सिंह (33) व विपुल जांगिड़ पुत्र रमेश चन्द (22) थाना शिवाजी पार्क अलवर, सुरेश कुमार पुत्र मोतीलाल बैरवा (29) थाना नांगल राजावतान जिला दौसा तथा सोनू उर्फ सुनिल पुत्र रणधीर सिंह (26) थाना बहरोड अलवर क्षेत्र के रहने वाले है।

एसपी गौतम ने बताया कि शुक्रवार की रात क्यूआरटी इंचार्ज जितेंद्र शर्मा की टीम ने थाना शिवाजी पार्क क्षेत्र में टैल्को चौराहा के पास एक कार में बैठे तीन व्यक्तियों जो अंको पर मोबाईलो के जरिये सट्टे की खाईवाली व लगाईवाली कर रहे थे को पकड़ लिया। सूचना पर थानाधिकारी शिवाजी पार्क हरि सिंह मौके पर पहुंचे। मौके पर मिले व्यक्तियों के पास 21.09 लाख रूपये नगद, लैपटॉप, मोबाइल व हिसाब की डायरी को जब्त कर थाने लाकर पूछताछ की गई।

थाने पर लाकर पूछताछ की गई तो पकड़े गई अभियुक्तों ने बताया कि उनका आँफिस गुरूग्राम हरियाणा में कार्यरत है। जिस पर एएसपी सरिता सिंह के निर्देशन व सीओ उत्तर शहर विकास सांगवान के नेतृत्व में थानाधिकारी शिवाजी पार्क हरि सिंह धायल व क्युआरटी इंचार्ज जितेंद्र शर्मा की टीम का गठन कर विशेष टीम गुरूग्राम भेजी जाकर 4 व्यक्तियों को दस्तयाब कर लाया गया।

तरीका वारदात -

अभियुक्त दिल्ली दिसावर, गाजियाबाद, फरीदाबाद में गली के अंको पर सट्टा की खाईवाली व लगाईवाली का आँनलाईन तथा मोबाईल व लैपटाँप से लोगो से सम्पर्क में रहकर विभिन्न लगाईवाली खाईवाली एजेंटो के माध्यम से काम करके लोगो के साथ छलकपट व धोखाधडी करके स्वंय को फायदा उठाने के लिये आगे अपने से उच्च स्तर के सटोरियों को उक्त ग्राहकों के दांव जरिये फोन पढाते हुये (रुपयो का दांव आगे उतार कर) सटटा की खाईवाली व लगाईवाली से फर्जकारी कर लोगों से रूपये ऐठते हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement