6 arrested under anti-conversion law in UP -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 5, 2021 7:52 pm
Location
Advertisement

यूपी में धर्मान्तरण विरोधी कानून के तहत 6 गिरफ्तार

khaskhabar.com : सोमवार, 14 जून 2021 12:26 PM (IST)
यूपी में धर्मान्तरण विरोधी कानून के तहत 6 गिरफ्तार
रामपुर । उत्तर प्रदेश में 12 साल से कम उम्र के दो नाबालिग लड़कों का खतना समारोह गुप्त रूप से आयोजित कराए जाने के चलते एक मौलवी और एक नाई समेत छह लोगों को गैरकानूनी धर्मांतरण निषेध अध्यादेश, 2020 के तहत हिरासत में लिया गया है। शनिवार की यह घटना रामपुर के शाहबाद इलाके की है।

हिंदू जागरण मंच (एचजेएम) के सदस्यों को समारोह के बारे में जैसे ही पता चला, वे पुलिस के साथ ट्रक चालक महफूज के घर गए। उसके माता-पिता और नाई को गिरफ्तार कर लिया गया। इसमें शामिल हुए अन्य लोगों की तलाश की जा रही है।

अतिरिक्त एसपी (एएसपी) संसार सिंह के अनुसार, उत्तराखंड निवासी एक गैर-मुस्लिम लड़के की मां ने पिछले महीने एक सड़क दुर्घटना में अपने पति को खो दिया था, जो पेशे से एक ट्रक चालक था। वह हाल ही में महफूज और उसके परिवार के साथ शाहबाद इलाके के बैरुआ गांव में रहने आई थी। महफूज की अभी तक शादी नहीं हुई है।

महिला ने अपना नाम बदलकर गुलिस्तान रख लिया।

एएसपी ने आगे कहा, "इस मामले में हमने एक प्राथमिकी दर्ज कर ली है क्योंकि लड़के नाबालिग हैं और उनका धर्म परिवर्तन कानून के खिलाफ था, इसलिए हमने घटना के बारे में पता चलने के बाद ही उसे संज्ञान में लिया।"

उन्होंने आगे यह भी कहा, "हमने महफूज, उसके माता-पिता, समारोह का आयोजन कराने वाले उसके बहनोई, धर्मांतरण समारोह का संचालन करने वाले मौलवी और खतना करने वाले नाई के खिलाफ मामला दर्ज किया है।"

उन पर आईपीसी की धारा 324 (स्वेच्छा से खतरनाक हथियारों या साधनों से चोट पहुंचाना) के साथ-साथ धर्म के गैरकानूनी रूपांतरण अधिनियम, 2020 के प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार धर्मांतरण की चाह रखने वाले व्यक्ति और धर्म परिवर्तन कराने वाले को प्रस्तावित धार्मिक रूपांतरण की अग्रिम घोषणा जिला मजिस्ट्रेट को प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है। इसके बाद जिला मजिस्ट्रेट के आदेश से रूपांतरण के कारण, इरादा इत्यादि को लेकर पुलिस की जांच कराई जाती है। हालांकि इस मामले में ऐसे किसी भी मानदंड का पालन नहीं किया गया।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement