5000 people will be employed by this new project in Pathankot.-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 8, 2019 8:18 am
Location
Advertisement

पठानकोट में इस नये प्रोजैक्ट से 5000 व्यक्तियों को रोजग़ार होगा हासिल

khaskhabar.com : शुक्रवार, 08 मार्च 2019 7:44 PM (IST)
पठानकोट में इस नये प्रोजैक्ट से 5000 व्यक्तियों को रोजग़ार होगा हासिल
पठानकोट । राज्य के औद्योगिक विकास को बड़ा प्रोत्साहन देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज यहाँ 800 करोड़ रुपए की लागत वाली पैप्सीको की फरैंचाईज़ीज वरुण बैवरेजिज़ ग्रीनफील्ड फैसिलिटी का उद्घाटन किया जिससे 5000 व्यक्तियों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर रोजग़ार हासिल होगा।
पंजाब लघु उद्योग और निर्यात निगम द्वारा अलॉट किए गए 41 एकड़ क्षेत्रफल में स्थापित इस यूनिट में ट्रौपीकाना जूस, डेयरी आधारित वस्तुएँ, कार्बोनेट गैस वाले ठंडे और सुधारा हुआ पानी तैयार होगा। पंगोली में स्थित ग्रोथ इंडस्ट्रियल सैंटर में इन उत्पादों का परीक्षण उत्पादन शुरू किया जा चुका है।
मुख्यमंत्री ने इस इलाके में गुरू अंगद देव वेटनरी साईसिज़ यूनिवर्सिटी द्वारा डेयरी विकास प्रसार केंद्र स्थापित करने का भी ऐलान किया जिससे दूध उत्पादकों को बेहतर पशु स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाने के अलावा दुधारू पशूओं की नसल में सुधार हो सके जिससे दूध का मानक बढ़ेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पैप्सीको प्रोजैक्ट राज्य में औद्योगिक उन्नती को और आगे लजाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा उद्योग को पुनर्जीवित करने के लिए ट्रक यूनियनें ख़त्म करने, मौजूदा और नये उद्योग को 5 रुपए प्रति यूनिट बिजली देना और राज्य में और राज्य से बाहर बिकने वाली वस्तुओं पर जी.एस.टी लाभ देने सहित कई रास्ते से एकतरफ़ हटकर कदम उठाए गए हैं।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि निवेशकों को पाँच सालों के लिए प्रति कर्मचारी 48000 रुपए की रोजग़ार सब्सिडी बिना किसी ऊपरी बंदिश से दी जा रही है। साल 2018 -19 में औद्योगिक क्षेत्र में ऊर्जा की खपत 14 प्रतिशत बढ़ी है जिससे राज्य में औद्योगिक क्षेत्र के पुन: सुदृढ़ होने का स्पष्ट संकेत मिलता है। मुख्यमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार के सत्ता में आने के बाद 66000 करोड़ रुपए के एम.ओ.यू किये गए हैं जिनमें से 36000 करोड़ रुपए के निवेश से ज़मीनी स्तर पर काम शुरू हो गया है।
संसद मैंबर सुनील जाखड़ ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह सरकार औद्योगिक विकास के प्रति पूरी तरह वचनबद्ध है जिसकी मिसाल पैप्सीको के इस प्रोजैक्ट से ली जा सकती है जो प्रोजैक्ट लगाने की अजऱ्ी देने के 10 महीनों के अंदर -अंदर ही शुरू हो गया। मैसर्ज वरुण बेवरेज लिमिटड ने अप्रैल, 2018 में निवेश पंजाब में अप्लाई किया था और इस प्रोजैक्ट को स्थापित करने के साथ जुड़ी सभी मंजूरियां केवल 10 महीनों के समय में मुकम्मल कर ली गई।
पठानकोट से विधायक अमित विज ने मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने इस प्रोजैक्ट के रूप में एक ऐसा पौधा लगाया है जो पेड़ का रूप धारण कर चुका है और इससे मौजूदा और भावी पीढिय़ों को बहुत बड़ा लाभ होगा।
पैप्सीको इंडिया के प्रमुख और सी.ई.ओ अहमद अल शेख़ ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह की गतिशील नेतृत्व वाली पंजाब सरकार का धन्यवाद किया। उन्होंने बताया कि पैप्सीको ने 30 साल पहले पंजाब से ही भारत के सफऱ का आग़ाज़ किया था और पैप्सीको इको-सिस्टम का यह ताज़ा निवेश भारत के व्यापारिक प्रगति के प्रति उनकी वचनबद्धता को दोहराता है। उन्होंने कहा कि यह नया प्रोजैक्ट राज्य और इससे बाहरी क्षेत्र में खपतकारों में कंपनी के उत्पादों की बढ़ती माँग को पूरा करने में सहायक होगा।
वरुण बेवरेज लिमटिड के चेयरमैन रवि जयपूरिया ने बताया कि इस प्रोजैक्ट का उद्घाटन तेज़ी से बढ़ रहे उत्पादों में अपनी मौजूदगी को और मज़बूत बनाने का प्रयास है। इस मौके पर उन्होंने राज्य के डेयरी कारोबार में भी और 10000 परिवारों के लिए नौकरियों का ऐलान किया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement