114 lakhs will be spent to bring water to farmers farms under the Prime Ministers Agricultural Irrigation Scheme-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 19, 2022 12:45 am
Location
Advertisement

अब खेतों तक पहुंचेगा पानी, किसान होंगे खुशहाल

khaskhabar.com : बुधवार, 14 मार्च 2018 5:02 PM (IST)
अब खेतों तक पहुंचेगा पानी, किसान होंगे खुशहाल
हमीरपुर। अब हमीरपुर जिला में सैकड़ों किसानों को खेती के लिए बारिश पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाने के लिए 114 लाख की राशि व्यय की जाएगी। इस योजना के तहत हमीरपुर जिला में 39 हेक्टयेर क्षेत्रफल को प्रारंभिक तौर पर सिंचाई की सुविधा उपलब्ध करवाने का कार्य आरंभ किया गया है।

इसी प्रकार एक अन्य सूक्ष्म सिंचाई योजना के अंतर्गत जिला में 58.64 लाख रूपए व्यय कर 75.92 हैक्टेयर क्षेत्र को सिंचाई सुविधा के अंतर्गत लाया जा रहा है। जिला में 156 किसानों को बोरवेल लगाने के लिए 6 लाख 75 हजार रूपए की राशि अनुदान के रूप में प्रदान कर लाभान्वित किया गया है।

हिमाचल प्रदेश कृषि प्रधान प्रदेश है तथा यहां के लोग अधिकतर खेती-बाड़ी पर निर्भर करते हैं। हमीरपुर जिला में खेतीबाड़ी के लिए अधिकांश किसान बारिश पर ही निर्भर हैं, किसानों को सिंचाई की उपयुक्त व्यवस्था उपलबध करवाने के लिए प्रधानमंत्री सिंचाई योजना आरंभ की गई है इस योजना के तहत कृषि के लिए बारिश पर निर्भर क्षेत्रों में सिंचाई की सुविधा उपलब्ध करवाने का प्लान तैयार किया जाता है। हमीरपुर जिला में भी प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत कार्ययोजना के तहत काम किया जा रहा है ताकि अधिकांश किसान लाभांवित हो सकें।

सिंचाई के साथ साथ किसानों को उन्नत खेती के लिए प्रेरित करने के लिए भी विभिन्न येाजनाएं चलाई जा रही हैं। किसान स्वरोजगार योजना के अंतर्गत जिला में किसानों के लिए पॉली हाऊउस तथा सूक्ष्म सिंचाई सिस्टम लगाने के लिए 85 प्रतिशत अनुदान का प्रावधान किया गया है। इस वर्ष योजना के तहत 80 लाख 73 हजार रूपए की राशि व्यय की जा रही है। जिला में 33 किसानों को 5833 वर्गमीटर के पॉलीहाऊस लगाने के लिए अनुदान प्रदान किया गया। किसानों द्वारा खेती-बाड़ी के साथ पॉली हाऊसों में बेमौसमी सब्जियां तथा फल भी तैयार किए जा रहे हैं। इससे जहां किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर हुई हैं वहीं गाांवों में लोगों को घर द्वार के नजदीक हर मौसम में ताजी सब्जियां तथा फल उपलब्ध हो रहे हैं। प्रदेश सरकार ने जिला में किसानों के लिए हमीरपुर, सुजानपुर तथ अन्य स्थानों पर सब्जी तथा फल मंडियों की स्थापना की है ताकि किसानों को उनके उत्पादों का बाजिव मूल्य प्राप्त हो तथा उन्हें तैयार कृषि उत्पदों को बेचने के लिए दूर न जाना पड़े। इससे किसानों का समय तथा धन बचेगा जिसे वह अपने खेती तथा अन्य कारोवार के कार्य में लगा सकते हैं।

प्रदेश सरकार द्वारा कृषि विभाग के माध्यम से किसानों को जैविक खेती अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है जिसके बेहतर परिणाम सामने आने लगे हैं।

प्रदेश सरकार द्वारा कृषि विभाग के माध्यम से किसानों के लिए मिटटी परीक्षण की सुविधा भी प्रदान की जा रही है ताकि किसान अपनी भूमि की प्रकृति के अनुरूप उसमें विभिन्न प्रकार की नक्दी फसलों को उगाकर अपनी आय को बढ़ा सकें। सरकार का मुख्य उददेश्य किसानों की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ बनाना है जिसके लिए किसानों को विभाग के माध्यम से समय-2 पर किसान जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जा रहा है जिससे जहां किसान कृषि की आधुनिक तकनीकों को सीख कर कृषि पैदावार को बढ़ा कर अच्छी आय प्राप्त कर रहे हैं।

उपायुक्त हमीरपुर राकेश प्रजापति का कहना है कि किसानों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों का लाभ ग्रामीण स्तर तक पहुंचे इस के लिए नियमित तौर पर कृषि विभाग द्वारा जागरूकता शिविर भी आयोजित किए जा रहे हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा किसान लाभांवित हो सकें।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement