Mission Mangal Movie Review : Akshay Kumar, Vidya Balan Deliver An Entertaining Account of a Complicated Mission-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 14, 2019 7:49 am
Location
Advertisement

Mission Mangal Movie Review : देशभक्ति पर ड्रामे से भरपूर हैं ‘मिशन मंगल’

khaskhabar.com : शनिवार, 17 अगस्त 2019 4:11 PM (IST)
Mission Mangal Movie Review : देशभक्ति पर ड्रामे से भरपूर हैं ‘मिशन मंगल’
कलाकार : अक्षय कुमार, विद्या बालन, सोनाक्षी सिन्हा, तापसी पन्नू नित्या मेनन, शरमन जोशी, कीर्ति कुल्हारी।
डायरेक्टर : जगन शक्ति।

बॉलीवुड में इस शुक्रवार को एक और फिल्म रिलीज हुई। बॉलीवुड में इस साल ‘मिशन मंगल’ का नाम बड़ी फिल्मों में शामिल है। यह फिल्म इसरो की रियल स्टोरी पर आधारित फिल्म है, जोकि भारत के पहले इंटरप्लेनेटरी अभियान को दर्शाती है। यह फिल्म एक साइंस फिक्शन ड्रामा फिल्म है। वैसे तो मंगलयान की कामयाबी की खबर हम सबने देखी थी, उस दिन पूरे देश ने खुद को मंगल पर पहुंचा हुआ फील किया। लेकिन इस सपने को जिन लोगों ने बुना, उनके स्ट्रगल की कहानी हर किसी ने नहीं देखी। ‘मिशन मंगल’ उसी स्ट्रगल की कहानी है।

कहानी : ‘मिशन मंगल’ कहानी भारत के मार्स ऑर्बिटर मिशन (Mars Orbiter Mission) की है, जिसे 5 नवंबर, 2013 को सफलता हासिल हुई थी। कहानी की बात करें तो ‘मिशन मंगल’ की कहानी तारा शिंदे यानी विद्या बालन से शुरू होती है। फिल्म में स्पेस साइंटिस्ट की भूमिका निभा रहे अक्षय कुमार (राकेश धवन) अपने हुनर से अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में भारत के लिए बड़ी कामयाबी हासिल करने का सपना देखते हैं जिसे वो इसरो साइंटिस्ट की भूमिका निभा रही विद्या बालन (तारा शिंदे) और उनकी टीम के साथ मिलकर पूरा करते हैं।

फिल्म की शुरुआत में दिखाया गया है कि एक छोटी सी गलती के कारण भारत का स्पेस मिशन विफल हो जाता है। इसके चलते देश और विदेश में इसरो पर सवाल खड़े किए जाते हैं और इसके वैज्ञानिक हंसी के पात्र बन जाते हैं।

ऐसे में न सिर्फ इसरो के वरिष्ट अधिकारी बल्कि सरकार भी राकेश धवन (अक्षय कुमार) और उनकी टीम के आगामी मिशन मिशन मार्स में ज्यादा रूचि नहीं दिखाती है। यहां राकेश धवन (अक्षय) के लिए बड़ी चुनौती सामने आती है क्योंकि उन्हें और तारा शिंदे (विद्या बालन) को मार्स मिशन पर पूरा भरोसा है। लेकिन उन्हें अपनी टीम और इसरो का विश्वास जीतना जरूरी है।

राकेश और तारा की लगन को देखते हुए उन्हें इस मिशन के लिए हरी झंडी मिल जाती है जिसके बाद वो कम साधनों में भारत मिशन का सपना पूरा करते हैं। इस मिशन में अक्षय और विद्या को तापसी पन्नू (Taapsee Pannu), सोनाक्षी सिन्हा (Sonakshi Sinha), कीर्ति कुल्हारी (Kirti Kulhari) और नित्या मेनन (Nithya Menen) का साथ मिलता है और कैसे इस मिशन को पूरा करती है। बस इसी मिशन के कामयाब होने की कहानी दिखाती है ‘मिशन मंगल।’

अभिनय...

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/4
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement