Snapchat removes Speed Filter that encouraged reckless driving-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 5, 2021 4:59 pm
Location
Advertisement

स्नैपचैट ने 'स्पीड फिल्टर' को हटाया, लापरवाह ड्राइविंग को 'प्रोत्साहित' करना बनी बड़ी वजह

khaskhabar.com : शुक्रवार, 18 जून 2021 12:44 PM (IST)
स्नैपचैट ने 'स्पीड फिल्टर' को हटाया, लापरवाह ड्राइविंग को 'प्रोत्साहित' करना बनी बड़ी वजह
सैन फ्रांसिस्को| मशहूर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म स्नैपचैट 'स्पीड फिल्टर' नामक एक फीचर को हटा रहा है, जो यूजर्स को यह कैप्चर करने देता है कि वे कितनी तेजी से गाड़ी चला रहे हैं और फिर इसे दोस्तों के साथ साझा कर सकते हैं।

यह कदम स्नैप के लिए एक नाटकीय उलटफेर है जिसने 2013 में इस सुविधा को पेश किया था।

एनपीआर की रिपोर्ट के अनुसार, तब से, "स्नैप ने सुरक्षा अधिवक्ताओं की चेतावनियों के सामने इस सुविधा का बचाव किया है, जिन्होंने तर्क दिया था कि यह लापरवाह ड्राइविंग को प्रोत्साहित करता है।"

कंपनी को उन लोगों के परिवारों के मुकदमों का भी सामना करना पड़ा है जो कार दुर्घटनाओं में घायल हुए हैं या मारे गए हैं। कई मामलों में कथित तौर पर ऐप पर डींग मारने का अधिकार हासिल करने के लिए ड्राइवर अत्यधिक गति से आगे बढ़ रहे थे।

यह सुविधा कई घातक या हाल की घातक कार दुर्घटनाओं में खासकर युवाओं के साथ जुड़ी हुई है।

रिपोर्ट के अनुसार, 2015 में स्पीड फिल्टर की टक्कर से जॉर्जिया में एक ड्राइवर को स्थायी मस्तिष्क क्षति हुई। उसी साल, फीचर को फिलाडेल्फिया कार दुर्घटना में तीन युवतियों की मौत से जोड़ा गया था।

रिपोर्ट के अनुसार, 2016 में, फ्लोरिडा में एक तेज गति की टक्कर में पांच लोगों की मौत हो गई, जिसमें कथित तौर पर स्पीड फिल्टर शामिल था।

2017 में, विस्कॉन्सिन में तीन युवकों ने फीचर पर 123 मील प्रति घंटे की गति देखी, इससे पहले कि वे एक पेड़ से टकरा गए और उनकी मौत हो गई।

मई में, स्नैपचैट ने कहा कि यह 500 मिलियन से अधिक मासिक सक्रिय उपयोगकतार्ओं तक पहुंच गया है, जिसका लगभग 40 प्रतिशत समुदाय उत्तरी अमेरिका और यूरोप के बाहर स्थित है।

भारत में, स्नैपचैट ने पिछली पांच तिमाहियों में से प्रत्येक में दैनिक सक्रिय उपयोगकतार्ओं (डीएयू) में 100 प्रतिशत से अधिक (साल-दर-साल) बढ़ोतरी देखी है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement