Three crooks arrested in crores of rupees-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 19, 2019 12:00 pm
Location
Advertisement

करोड़ों रूपये की ठगी में 3 बदमाश गिरफ्तार

khaskhabar.com : गुरुवार, 18 जुलाई 2019 5:13 PM (IST)
करोड़ों रूपये की ठगी में 3 बदमाश गिरफ्तार
जयपुर। संगठित गिरोह बनाकर सैकड़ों चिकित्सकों को ऋण दिलवाकर शेयर मार्केट में निवेश करवाने के नाम पर करोड़ों रूपये की ठगी करने वाले गिरोह के 3 बदमाशों को गुरुवार को एसओजी ने गिरफ्तार कर लिया है।

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस, ए.टी.एस. एवं एस.ओ.जी अनिल पालीवाल ने बताया कि विगत दिनों एसओजी में आकर काफी संख्या में चिकित्सकों ने शिकायत दर्ज करवाई की कुछ लोगों द्वारा संगठित गिरोह बनाकर कई जिलों के चिकित्सकों के साथ ऋण दिलवाने के नाम पर ठगी की जा रही है। इस पर एसओजी में प्रकरण दर्ज किया जाकर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया।

अनुसंधान के दौरान एसओजी ने संगठित गिरोह के सदस्य अमित शर्मा (42) निवासी कीर्ति नगर टोंक रोड़ जयपुर हाल बी.टी. रोड मानसरोवर जयपुर, डॉ. रामलखन डिसानिया (38) निवासी डिसानिया की डाणी आला का बास डूंगरी जोबनेर जयपुर व नेहा जैन उर्फ रानी जैन (23) निवासी शिवनगर जनता कालोनी आदर्श नगर जयपुर को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में सामने आया कि तीनों आरिपयो ने डिसानिया, जो पेशे से स्वंय चिकित्सक है, का फायदा उठाते हुए चिकित्सकों से सम्पर्क करते है।

उन्हे बड़ी होटलों में मीटिंग व पार्टियॉ आयोजित कर उनके द्वारा व्यवसाय/शेयर मार्केट में निवेश करने का लालच देते है। गिरोह में मौजूद बैंककर्मी व वित्तीय संस्थाओं के पदाधिकारी चिकित्सकों को बैंकों एवं वित्तीय संस्थाओं से भारी ऋण उपलब्ध करवाते है। इसके बाद उक्त ऋण के पैसों को स्ंवय द्वारा संचालित व्यवसाय में निवेश करवा देते हैं। जहॉ से प्रतिमाह दस हजार से एक लाख रूपये तक के मुनाफे का लालच दिया जाता है। ऋण की अदायगी भी मासिक ईएमआई भी उसी मुनाफे की रकम से चुकाने का झांसा दिया जाता है।

इस संबंध में अभियुक्तों द्वारा वर्ल्ड ट्रेड पार्क में एक आफिस का भी संचालन कर रखा था। अभियुक्तों द्वारा चिकित्सकों को जल्द ही फार्मा, माईनिंग व प्रोपर्टी में निवेश कर भारत की प्रसिद्ध फर्म बनने का भी झांसा दिया गया। उक्त मीटिंग में चिकित्सकों को आकर्षित करने के लिए ईएमआई के अतिरिक्त लाभ से उन्हे आई फोन, महंगी कारे जैसे ऑडी, बीएमडब्ल्यू आदि कम ब्याज पर दिलवाने का प्रलोभन भी दिया गया। अभियुक्तों से गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में गहन पूछताछ जारी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement