JE and fellow constable arrested for taking bribe-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 26, 2020 9:28 pm
Location
Advertisement

विजिलेंस टीम ने रिश्वत लेते जे.ई. और साथी हवलदार को रंगे हाथों किया गिरफ्तार

khaskhabar.com : बुधवार, 11 दिसम्बर 2019 9:32 PM (IST)
विजिलेंस टीम ने रिश्वत लेते जे.ई. और साथी हवलदार को रंगे हाथों किया गिरफ्तार
चंडीगढ़। पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने बुधवार को पी.एस.पी.सी.एल. के जूनियर इंजीनियर (जे.ई.) और आबकारी विभाग में तैनात हवलदार सुखदेव सिंह और उसके एक साथी को दो अलग-अलग मामलों में रिश्वत लेते रंगे हाथों काबू कर लिया।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजिलेंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि खन्ना जि़ला लुधियाना में तैनात जेई परमिन्दर सिंह को शिकायतकर्ता रवि मशाल निवासी खन्ना की शिकायत पर पकड़ा है। शिकायतकर्ता ने विजिलेंस ब्यूरो को अपनी शिकायत में दोष लगाया कि उक्त जे.ई. ने उनके प्लॉट में लगे बिजली के खम्बे हटाने के लिए 1,20,000 रुपए मांगे थे परन्तु सौदा 1,00,000 रुपए में तय हो गया। इससे पहले वह 80,000 रुपए दो किश्तों में इसी काम के लिए दोषी जे.ई. को दे चुका है परन्तु वह अभी भी इसी काम को करने के बदले 20,000 रुपए और मांग रहा है। विजिलेंस की तरफ से शिकायत की जांच के उपरांत उक्त दोषी जे.ई. को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में 20,000 रुपए की रिश्वत लेते मौके पर ही पकड़ लिया।
इसी तरह भ्रष्टाचार के एक और केस में विजिलेंस ब्यूरो ने हवलदार सुखदेव सिंह और अमरू नाम के एक प्राईवेट व्यक्ति को शिकायतकर्ता देव राज निवासी गांव बतूरा जि़ला जालंधर की शिकायत पर पकड़ा है। जल स्पलाई विभाग में ट्यूबवैल ऑपरेटर के तौर पर तैनात शिकायतकर्ता ने विजीलैंस को अपनी शिकायत में दोष लगाया कि उक्त हवलदार ने उससे रास्ते में जाते समय देसी दारू की दो बोतलें पकड़ी थीं परन्तु वह उस पर दारू की पेटी का केस डालने का डर दिखाकर 10,000 रुपए की मांग कर रहा है और सौदा 8,000 रुपए में तय हुआ है।
विजिलेंस द्वारा शिकायत की जांच के उपरांत उक्त दोषी हवलदार और उसके मध्यस्थ को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में 8,000 रुपए की रिश्वत लेते मौके पर ही पकड़ लिया। उन्होंने बताया कि उक्त तीनों दोषियों के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत क्रमवार विजिलेंस ब्यूरो के थाना लुधियाना और जालंधर में मुकदमे दर्ज करके अगली कार्रवाई आरंभ कर दी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement