Gonda: Kidnapped child rescued from 4 crore ransom, 4 accused arrested-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 17, 2021 8:11 am
Location
Advertisement

गोंडा: काराेबारी का अगवा बच्चा छुड़ाया गया, महिला सहित 5 आरोपी गिरफ्तार

khaskhabar.com : शनिवार, 25 जुलाई 2020 11:01 AM (IST)
गोंडा: काराेबारी का अगवा बच्चा छुड़ाया गया, महिला सहित 5 आरोपी गिरफ्तार
गोंडा। उत्तर प्रदेश के गोंडा में अपरहण हुए किराना व्यवसायी के 8 वर्षीय बच्चे को शनिवार तड़के पुलिस और एसटीएफ टीम ने मुठभेड़ के बाद सकुशल बरामद किया। इस दौरान दो अपहर्ताओं के पैर में गोली लगी। मुठभेड़ में महिला समेत कुल पांच बदमाश गिरफ्तार हुए हैं। एडीजी लॉयन आर्डर प्रशांत कुमार ने मीडिया से बातचीत में बताया कि घटना की एफआईआर के फौरन बाद से पुलिस की कई टीमें लगा दी गई थीं। शनिवार सुबह गांव पारा में मुखबिर की सूचना पर मुठभेड़ हुई। अपहरणकर्ता गाड़ी से बच्चे को किसी दूसरी जगह ले जा रहे थे।

मुठभेड़ में अपहृत बच्चे नमो को सकुशल बरामद किया गया और इस दौरान दो बदमाश उमेश यादव और दीपू कश्यप घायल हुए। वहीं सूरज पांडे, उनकी पत्नी छवि पांडेय और उनका छोटा भाई राज पांडेय गिरफ्तार किया गया है। घायल बदमाशों का इलाज चल रहा है। बदमाशों के पास आल्टो गाड़ी, एक पिस्टल, दो तमंचे भी बरामद हुए हैं। क्षेत्र में अभी जांच अभियान चल रहा है।

उन्होंने बताया कि शासन की तरफ से एसटीएफ और स्थानीय पुलिस को 1-1 लाख रुपए इनाम की घोषणा की गई है। अभी भी मामले की जांच की जा रही है और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ में घटना से जुड़े और लोगों का पता लगाया जा रहा है। जिन पुलिसकर्मियों को चोट पहुंची है,उनका मेडिकल कराया जाएगा। इस मामले में जो भी शामिल रहे हो उन पर भी कार्रवाई होगी।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के गोंडा के कर्नलगंज कोतवाली क्षेत्र में गाड़ी बाजार मुहल्ला निवासी किराना व्यवसायी ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर दो व्यक्ति उनके घर पर आए। उन लोगों ने खुद को स्वास्थ्य विभाग से होने की जानकारी देते हुए मास्क व सैनिटाइजर बांटने की बात कही। भाई हरी गुप्त से मोबाइल नंबर लेते हुए कहा कि मास्क व सैनिटाइजर देने के लिए किसी को गाड़ी तक भेज दीजिए। इस पर परिवारजन ने हरि के आठ वर्षीय पुत्र आरुष उर्फ नमो को भेज दिया।

बताया गया कि कार सवार बदमाश बच्चे को वहीं से अगवा कर भाग निकले। कुछ देर बाद बच्चा वापस घर नहीं लौटा तो परिवारजनों ने खोजबीन शुरू की। तभी हरी गुप्त के मोबाइल पर फोन करके बदमाशों ने 4 करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की। साथ ही पुलिस को जानकारी न देने की धमकी भी दी।

व्यवसायी पुत्र आरुष उर्फ नमो के अपहरण की पूरी वारदात सीसी कैमरे में कैद हो गई है। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई थी। इसके बाद पुलिस ने पूरी मुस्तैदी से मामले में कार्रवाई करना शुरू किया। इस घटना को लेकर यूपी एसटीएफ को तुरंत अलर्ट किया गया। गोंडा जिले की सारी सीमाएं सील कर दी गईं।

--आईएएनएस

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement