There is no harm in recreating songs if done better: Tulsi Kumar-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 1, 2020 9:01 pm
Location
Advertisement

बेहतर ढंग से हो तो गानों को रीक्रिएट करने में कोई हर्ज नहीं : तुलसी कुमार

khaskhabar.com : गुरुवार, 09 अप्रैल 2020 11:02 AM (IST)
बेहतर ढंग से हो तो गानों को रीक्रिएट करने में कोई हर्ज नहीं : तुलसी कुमार
नई दिल्ली। बॉलीवुड की मशहूर पाश्र्वगायिका तुलसी कुमार ने अपने अब तक के करियर में कई हिट गानों को अपनी आवाज दी हैं, जिनमें 'ओ साकी साकी' और 'शहर की लड़की' जैसे गाने भी हैं, जिन्हें रीक्रिएट किया गया है।

तुलसी का इस पर कहना है कि अगर खूबसूरती के साथ किसी गाने को रीक्रिएट किया जाए, तो इसमें कोई हर्ज नहीं है।

टी-सीरीज के संस्थापक गुलशन कुमार की बेटी और इसके वर्तमान अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक भूषण कुमार की बहन तुलसी द केयर कॉन्सर्ट का हिस्सा बनने जा रही हैं। यह 11 अप्रैल को आयोजित होने वाला एक लाइव डिजिटल शो है, जिसके माध्यम से पीएम-केयर्स फंड के लिए धन एकत्रित किया जाएगा।

आईएएनएस की तरफ से तुलसी से कुछ सवाल पूछे गए, जो कुछ इस प्रकार है:

आपने कहा कि रीक्रिएशन अच्छा है, अगर उन्हें खूबसूरती के साथ किया जाए। जो इनके साथ छेड़खानी करते हैं, ऐसे लोगों को क्या कहना चाहेंगी?

तुलसी : हर एक की अपनी शैली है। मुझे लगता है कि संगीत एक व्यक्तिपरक विषय है। जो मुझे पसंद हो, वह दूसरों को पसंद नहीं भी हो सकता है। व्यक्तिगत तौर पर, मुझे लगता है कि रीक्रिएशन की एक तरफ खूब निंदा भी की जाती है और दूसरी तरफ इन्हें बड़े पैमाने पर सुना भी जाता है। अगर इन्हें सही से व खूबसूरती के साथ बनाया जाए, तो कोई हर्ज नहीं है। इन्हें बनाने में रचनात्मकता की बहुत अधिक आवश्यकता होती है।

क्या इन दिनों लोग संगीत में सुकून पाते हैं?

तुलसी : बेहतर संगीत चोट पर मरहम लगाने की तरह काम करता है। इससे इंसान में सकारात्मकता आती है। संगीत कुछ ऐसा है, जो हमेशा आपको शांत रखता है। लोग अपने-अपने घरों में बंद हैं, ऐसे में संगीत से अपना मनोरंजन करने से बेहतर और कुछ भी नहीं है।

इन दिनों आप घर में अपना वक्त कैसे बिता रही हैं?

तुलसी : मैं अपनी आने वाली परियोजनाओं पर घर से काम कर रही हूं। इसके साथ ही मैं अपने दो साल के बेटे शिवाय व पूरे परिवार के साथ खूब सारा वक्त बिता रही हूं। खुद के साथ भी समय गुजार रही हूं। इस लॉकडाउन का भरपूर लाभ उठा रही हूं।

काम की बात करें, तो तुलसी ने हाल ही में 'फिर न मिले कभी' के रिप्राइज वर्जन को जारी किया है और इसके अलावा उनका एक एकल गीत भी है, जिसका शीर्षक 'मसकली 2.0' है। इस गाने में सिद्धार्थ मल्होत्रा और तारा सुतारिया हैं। तुलसी इन सबके बीच कई सारे स्वतंत्र गानों पर भी काम कर रही हैं।

इस केयर कॉन्सर्ट को टी-सीरीज व रेड एफएम के यूट्यूब व फेसबुक हैंडल में प्रसारित किया जाएगा। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement