Manushi Chhillar: Raksha Bandhan always an inclusive occasion in my family-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 21, 2020 9:04 pm
Location
Advertisement

माता-पिता ने हम भाई-बहनों को एक-दूसरे की रक्षा करना सिखाया : मानुषी छिल्लर

khaskhabar.com : सोमवार, 03 अगस्त 2020 1:58 PM (IST)
माता-पिता ने हम भाई-बहनों को एक-दूसरे की रक्षा करना सिखाया : मानुषी छिल्लर
मुंबई। अभिनेत्री और पूर्व ब्यूटी क्वीन मानुषी छिल्लर कहती हैं कि उनके लिए रक्षा बंधन का त्योहार हमेशा समान लैंगिक मूल्यों और समानता वाला रहा है।

मानुषी के अनुसार, उनके माता-पिता मित्रा बसु और नीलम ने तीनों भाई-बहन - देवांगना, दलमित्रा और मानुषी को सिखाया है कि एक दूसरे की रक्षा करना और एक-दूसरे के साथ खड़े रहना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है।

मानुषी ने कहा, "मेरे परिवार में मेरे माता-पिता ने हमेशा समान मूल्यों और समानता की भावना को प्रमुखता दी, फिर चाहे बता कोई काम करने की हो या त्योहार मनाने की। इसीलिए जब हमने रक्षा बंधन मनाया तो यह हमारे लिए एक सम्मिलित अवसर रहा है।"

उन्होंने कहा, "देवांगना, दलमित्रा और मैंने हमेशा इसे एक ऐसे दिन के रूप में मनाया है जिसमें हम भाई-बहन के रूप में इस रिश्ते को सराहते हैं और वादा करते हैं कि हम हमेशा एक-दूसरे के लिए खड़े रहेंगे। हम सबसे अच्छे दोस्त हैं!"

मानुषी कहती हैं कि माता-पिता की ऐसी परवरिश की वजह से उनके भाई दलमित्रा बेहद प्रगतिशील सोच वाले हैं।

उन्होंने कहा, "मेरा भाई, सबसे छोटा होने के नाते खुद इस बात को लेकर मुखर रहा है कि उसे अपनी बहनों की उतनी ही जरूरत है, जितनी हमें उसकी जरूरत है।"

2017 में मिस वल्र्ड का ताज जीतने वाली मानुषी ने कहा, "यह बात हम में हमारे माता-पिता से आई है। वे अपने सिद्धांतों, नैतिकता, दर्शन आदि हर तरह के मामले में हमारे आदर्श हैं।"

वह अपने अभिभावकों को उन्हें "स्वतंत्र, समावेशी और सही मूल्यों के साथ आगे बढ़ाने" जैसी चीजें सिखाने के लिए धन्यवाद देती हैं। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement