Break the dullness of lockdown, earn 50 thousand by making videos-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 3, 2020 9:42 pm
Location
Advertisement

लॉकडाउन की नीरसता तोड़िए, वीडियो बनाकर 50 हजार तक कमाएं

khaskhabar.com : मंगलवार, 07 अप्रैल 2020 4:25 PM (IST)
लॉकडाउन की नीरसता तोड़िए, वीडियो बनाकर 50 हजार तक कमाएं
मुंबई। कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप को रोकने के लिए देश में जारी लॉकडाउन के दौरान हर व्यक्ति घरों में कैद है और नीरसता भरी जिंदगी जीने को मजबूर है। ऐसे में बॉलीवुड के हास्य अभिनेता हेमंत पांडे ने लोगों की नीरसता तोड़ने के लिए एक अनोखी पहल की है। इसके तहत कोई भी व्यक्ति 30 सेकेंड से तीन मिनट तक का वीडियो बनाकर घर बैठे एक हजार से 50 हजार रुपये तक कमा सकता है।

धारावाहिक 'ऑफिस ऑफिस' फेम पांडे जी यानी हेमंत पांडे ने सोमवार को एक फेसबुक पोस्ट में इस पहल की घोषणा की है। अपने फेसबुक अकाउंट पर डाले एक पोस्ट में हेमंत ने कहा कि जिस किसी के पास मोबाइल हो, वह अपने घर में अपनी भावनाओं को 30 सेकेंड से तीन मिनट तक के वीडियो में कैद कर उन्हें भेज सकता है और इसके जरिए हर किसी को एक हजार रुपये से 50 हजार रुपये तक कमाने का एक मौका मिल सकता है।

बकौल हेमंत, वीडियो कहां और कैसे भेजने होंगे और इस पहल के बाकी विवरण क्या होंगे, इसकी पूरी जानकारी वह अपने यूट्यूब चैनल 'गुड आईडिया' पर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर जल्द ही जारी कर देंगे।

आईएएनएस ने इस बारे में हेमंत से फोन पर संपर्क किया तो उन्होंने कहा, "लॉकडाउन की नीरसता हर किसी को परेशान कर रही है। एक अभिनेता के नाते लोगों की नीरसता तोड़ने का मेरा यह अपने तरह का एक छोटा-सा प्रयास है। हर कोई डायरेक्टर, एक्टर या वीडियोग्राफर नहीं होगा, लेकिन इमोशन हर किसी के पास है। कोई भी अपने इमोशन का वीडियो बनाकर हमें भेज सकता है। इस बारे में सारी जानकारी एक-दो दिन में हमारे यूट्यूब चैनल (गुड आईडिया) पर उपलब्ध हो जाएगी।"

हेमंत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' योजना के उत्तराखंड के ब्रांड एंबेस्डर भी हैं, और उन्हें अपनी इस पहल की प्रेरणा भी प्रधानमंत्री मोदी से ही मिली है। वह कहते हैं, "हमारे प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) ने लॉकडाउन की लोगों की नीरसता और कुंठा को तोड़ने के लिए दो बार पूरे देश को कोरोना के खिलाफ एकजुटता दिखाने के लिए प्रेरित किया। ऐसे में मुझे भी लगा कि अपने स्तर से इस दिशा में कुछ करना चाहिए। क्योंकि लोगों की निराशा दूर करना इस समय बड़ी जरूररत है। काफी सोच-विचार के बाद इस विचार ने जन्म लिया है।"

उल्लेखनीय है कि मोदी ने लॉकडाउन के दौरान सबसे पहले 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दिन शाम को लोगों से ताली और थाली बजाकर कोरोना के खिलाफ लड़ रहे योद्धाओं के प्रति सम्मान जाहिर करने की अपील की थी। उन्होंने दूसरी बार पांच अप्रैल की रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की लाइट बुझाकर दिया, मोमबत्ती और मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाकर कोरोना का अंधेरा दूर करने की लोगों से अपील की थी, और उनकी अपील पर लोगों ने अमल भी किया।

बहरहाल, काम की बात करें तो हेमंत इन दिनों डेविड धवन के साथ 'कुली नंबर 2', चंद्रकांत सिंह की 'क्या मस्ती क्या धूम', स्नेहल डॉबी की 'बावले उठावले' जैसी फिल्मों में प्रमुख भूमिकाएं निभा रहे हैं। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement