Women Are Not Allowed To Use Slipper In This Village Slide 2-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 18, 2019 8:17 pm
Location
Advertisement

राजा के जमाने से चली आ रही है ये प्रथा, महिलाओं को करना होता है ऐसा...

khaskhabar.com : शुक्रवार, 16 नवम्बर 2018 12:27 PM (IST)
राजा के जमाने से चली आ रही है ये प्रथा, महिलाओं को करना होता है ऐसा...
ये है रिवाज....
श्योपुर में कराहल के आदिवासी बहुल आमेठ गांव में सवर्ण परिवारों व बुजुर्गों के सम्मान में महिलाएं चप्पल पहनकर चल नहीं सकतीं। हालांकि गांव से बाहर जाने पर उन्हें चप्पल पहनने की इजाजत हैं, लेकिन रसूखदारों और बुजुर्गों के सम्मान के नाम पर गांव के भीतर महिलाओं को नंगे पैर ही रहना पड़ता है।

गांव की महिलाएं नहीं पहनती चप्पल...

करीब 250 घरों वाले आमेठ की करीब 1150 की आबादी में 600 पुरुष व 350 महिलाएं है, और करीब 200 बच्चे हैं। गांव में हजारों सालों से एक प्रथा चली आ रही है। इसके मुताबिक बड़े व बुजुर्गों के मान-सम्मान देने के नाम पर गांव की महिलाएं उनके सामने चप्पल पहनकर नहीं जा सकती। यहां तक कि उनके घरों के सामने से भी चप्पलें पहनकर नहीं गुजर सकतीं। गांव के बाहर चप्पल पहनने की इजाजत है, लेकिन इस हाल में अगर गांव का कोई बुजुर्ग सामने आ जाए तो महिला को चप्पल उतार कर हाथ में लेनी पड़ती है।

हर मौसम में निभानी होती है रिवाज...

ये भी पढ़ें - 37 देशों में मिली यह अनजान खूबसूरत औरतें

2/3
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement