Serve bull to get gold from dung-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 12, 2019 7:33 pm
Location
Advertisement

गोबर से सोना हासिल करने के लिए सांड की सेवा

khaskhabar.com : बुधवार, 23 अक्टूबर 2019 7:07 PM (IST)
गोबर से सोना हासिल करने के लिए सांड की सेवा
निशा शर्मा
चंडीगढ़। हरियाणा में सिरसा जिले के कालांवाली कस्बे में गोबर से सोना हासिल करने के लिए सांड की खूब सेवा हो रही है। यहां वार्ड नंबर-छह में एक महिला ने एक थैला अपने घर से बाहर फेंका था। इस थैले में कटी हुई सब्जियों के छिलके थे। भूल से बाहर फेंके गए थैले में सोने के आभूषण भी थे। जब महिला को अपनी गलती का अहसास हुआ, तब तक एक सांड थैले में भरी सब्जियों के छिलके खा चुका था। सब्जियों के छिलकों के साथ ही सोने के आभूषण भी उसके पेट में पहुंच गए थे।
परिवार के लोगों ने सीसीटीवी फुटेज में देखा कि सोने के आभूषण गली के आवारा सांड ने निगल लिए हैं। वार्ड की गलियों के कई चक्कर लगा कर परिवार के लोगों ने बड़ी मुश्किल से उस आवारा सांड की पहचान की। फिर उसे खुली जगह पर बाँध दिया गया। इसके बाद सांड को खाने के लिए खूब सारा हरा चारा, गुड़ और केले दिए गए। अब सांड के गोबर के जरिए खोये सोने को फिर से हासिल करने की कोशिशें की जा रही हैं।

परिवार के मुखिया जनक राज ने बताया कि एक समारोह में हिस्सा लेकर देर रात घर लौटे थे। पत्नी और पुत्रवधू ने अपने सोने के आभूषण उतार कर रसोई में एक कटोरी में रख दिए। इस दौरान सोने के गहनों वाली कटोरी में सब्जी के छिलके डाल दिए गए और आभूषण इनके नीचे दब गए।
जनकराज की बुजुर्ग मां ने छिलकों से भरी कटोरी को एक थैले में उलट दिया और सब्जियों के छिलके आवारा पशुओं के खाने के लिए घर से बाहर फेंक दिए। इन छिलकों को गहनों सहित एक कटी पूंछ के आवारा सांड ने निगल लिया था। इस सांड को काबू करने के जनकराज परिवार के सारे प्रयास जब विफल हो गए तो एक पशु चिकित्सक को बुला कर इंजेक्शन लगवाया गया। फिर रस्से से बांध कर घर के पास खुली जगह पर लाया गया। इसके बाद सांड को खिलाया-पिलाया जाने लगा. गोबर के जरिए सना हासिल करने के लिए सांड की खातिरदारी अभी भी जारी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement