Bihar villagers worship bats as God Slide 3-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 27, 2021 3:42 am
Location
Advertisement

यहां होती है चमगादडों की पूजा

khaskhabar.com :
यहां होती है चमगादडों की पूजा
उन्होंने बताया कि रात में गांव के बाहर किसी भी व्यक्ति के तालाब के पास जानं के बाद ये चमगाद़ड चिल्लाने लगते हैं, जबकि गांव का कोई भी व्यक्ति के जाने के बाद चमगाद़ड कुछ नहीं करते। उन्होंने दावा किया कि यहां कुछ चमगाद़डों का वजन पांच किलोग्राम तक है। सरसई पंचायत के मुखिया चंदन कुमार बताते हैं कि सरसई के पीपलों के पे़डों पर अपना बसेरा बना चुके इन चमगादडों की संख्या में लगातार वृद्धि होती जा रही है। गांव के लोग न केवल इनकी पूजा करते हैं, बल्कि इन चमगाद़डों की सुरक्षा भी करते हैं।


3/5
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement