विश्व कप के स्टार एमबाप्पे ने की यह गलती, 3 मैच का प्रतिबंध

मैनचेस्टर। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर युनाइटेड के डिफेंडर लूक शॉ ने कहा कि वर्ष 2015 में दाएं पैर में लगी चोट के बाद उन्हें ऐसा महसूस हुआ कि उन्होंने अपना पैर गंवा दिया है। चैम्पियंस लीग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में 23 वर्षीय शॉ को चोट लगी थी जिसके बाद वे पूरे सीजन नहीं खेल पाए थे। उन्हें स्पेन और स्विट्जरलैंड के खिलाफ होने वाले आगामी दोस्ताना मुकाबले के लिए इंग्लैंड की टीम में शामिल किया गया है। शॉ ने कहा, मैं झूठ बोलूंगा अगर मैं यह कहूं कि मैंने फुटबॉल छोडऩे के बारे में नहीं सोचा। मुझे पैर में बहुत तकलीफ हुई और वह मेरे करियर का सबसे मुश्किल समय था। कोई नहीं जानता लेकिन मैं पैर गंवाने के बहुत करीब था। मुझे छह महीने बाद चिकित्सकों ने बताया कि मैं ठीक हूं। शॉ ने कहा, मैं अब पुराने समय के बारे में सोचना नहीं चाहता। अब मेरा पैर उसी तरह मजबूत है जैसे वो चोट लगने से पहले था। वे वर्ष 2014 में साउथम्पटन से मैनचेस्टर युनाइटेड में शामिल हुए थे।
Share this article

यह भी पढ़े

टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कमिंस व हैजलवुड, ये ले सकते हैं जगह

शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता