किमिको दाते के बाद अब नाओमी ओसाका ने कर दिखाया यह कमाल

20वीं वरीयता प्राप्त ओसाका वर्ष 1996 में किमिको दाते के विंबलडन सेमीफाइल में पहुंचने के बाद किसी ग्रैंडस्लैम के अंतिम चार में जगह बनाने वाली पहली जापानी खिलाड़ी हैं। गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल में छह बार की चैंपियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स का सामना लात्विया की एनेस्तेशिया सेवास्तोवा से होगा।
Share this article

यह भी पढ़े

निसार अहमद को नहीं डिगा सकी पैसों की कमी, पिता चलाते हैं रिक्शा

इस मामले में पहले स्थान पर हैं चेन्नई के स्पिनर हरभजन सिंह, देखें...

कप्तान कोहली ने कहा, वे जिस चीज का इस्तेमाल नहीं करते...

IPL : कोहली-एबी के नाम है सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड, ये हैं...

‘थोड़ा समय जरूर लगेगा, लेकिन इस खेल को भी पहचान मिलेगी’

...तब घर में रात का खाना बना रहे थे स्पिनर नाथन लियोन