किमिको दाते के बाद अब नाओमी ओसाका ने कर दिखाया यह कमाल

20वीं वरीयता प्राप्त ओसाका वर्ष 1996 में किमिको दाते के विंबलडन सेमीफाइल में पहुंचने के बाद किसी ग्रैंडस्लैम के अंतिम चार में जगह बनाने वाली पहली जापानी खिलाड़ी हैं। गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल में छह बार की चैंपियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स का सामना लात्विया की एनेस्तेशिया सेवास्तोवा से होगा।
Share this article

यह भी पढ़े

शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता

टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कमिंस व हैजलवुड, ये ले सकते हैं जगह