अवे गोल के नियम पर समीक्षा चाहते हैं यूरोपीयन क्लबों के कोच

न्योन (स्विट्जरलैंड)। यूरोप के शीर्ष स्तरीय कोचों ने यूईएफए से फुटबॉल प्रतियोगिताओं में इस्तेमाल होने वाले अवे गोल के नियम पर समीक्षा की मांग की है। वेबसाइट ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, कोचों का कहना है कि अवे गोल को स्कोर करना अब उतना मुश्किल नहीं रह गया है, जितना पहले हुआ करता था। यूईएफए के डिप्टी महासचिव जियोर्जियो मार्चेती ने इस बात की पुष्टि की है कि यूरोपीय महासंघ इस मामले पर चर्चा करेगा। इस अवे गोल के इस्तेमाल से ही दो क्लबों के बीच औसत परिणाम के तहत नॉकआउट में पहुंचने वाले क्लब का फैसला किया जाता है। वार्षिक बैठक में अवे गोल की समीक्षा की मांग करने वाले कोचों में जुवेंतस के कोच मासिमिलियानो एलेग्री, नेपोली के कोच कार्लोस एंसेलोटी, आर्सेनल कोच उनाई एमेरी, रियल मेड्रिड कोच जुलेन लोपेतेगुई, मैनचेस्टर युनाइटेड कोच जोस मोरिन्हो, पेरिस सेंट जर्मेन के कोच थोमस तुशेल और आर्सेनल फुटबॉल क्लब के पूर्व कोच आर्सेने वेंगर शामिल थे। मार्चेती ने कहा, कोचों का मानना है कि अवे गोल को स्कोर करना उतना मुश्किल नहीं रह गया है, जितना पहले कभी हुआ करता था। उन्हें लगता है कि इस नियम की समीक्षा होनी चाहिए और हम ऐसा करेंगे।कोलंबिया के कोच पद पर बने रहने की चाह नहीं : पेकरमैन
Share this article

यह भी पढ़े

शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता

टेस्ट सीरीज से बाहर हुए कमिंस व हैजलवुड, ये ले सकते हैं जगह